Home » उत्तर प्रदेश » UP Civic Polls 2017: BJP and Congress both get 874 votes in Ward no.56 in Mathura. Winner to now be decided by a lucky draw
 

यूपी निकाय चुनाव: टाई होने के बाद लकी ड्रॉ से हुआ विजेता का एलान

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 December 2017, 13:27 IST

उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव के नतीजें शुक्रवार को आने शुरू हो गये हैं. यूपी में तीन चरणों में हुए निकाय चुनाव की मतगणना शुक्रवार को हो रही है. अभी तक आए नतीजों में भाजपा को बढ़त मिलती दिख रही है. ये निकाय चुनाव एक तरफ योगी सरकार के कार्यकाल की समीक्षा की तौर पर देखे जा रहें हैं.

वहीं दूसरी तरफ ये सपा,बसपा और कांग्रेस के लिए भी बेहद अहम है. जानकार लोग यूपी के निकाय चुनाव को गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनाव से भी जोड़ कर देख रहे हैं. क्योंकि उनका मानना है कि इससे देश के मूड के बारे में अंदाजा़ लगाया जा सकता है.

यूपी निकाय चुनाव में में 16 नगर निगम 198 नगर पालिका और 438 नगर पंचायत के रिजल्ट आने शुरु हो गये हैं. मथुरा के वार्ड नंबर 56 में भाजपा और कांग्रेस के उम्मीदवार के बीच दिलचस्प मुकाबला देखने को मिला. इस मुकाबले में दोनों उम्मीदवारों के बीच टाई हो गया. दोनों उम्मीदवारों को 874 वोट मिले.

दोनों के बीच टाई के होने पर नतीजे के लकी ड्रा का इस्तेमाल किया गया. इस लकी ड्रॉ में भाजपा के उम्मीदवार ने कांग्रेस के उम्मीदवार को मात दी और विजयी घोषित हुए. बीजेपी की विजयी उम्मीदवार मीरा अग्रवाल है.

अभी तक चल रही काउंटिंग के मुताबिक  (भाजपा) की उम्मीदवार ने सहारनपुर, गाजियाबाद और मेरठ में बढ़त बना ली है. मेरठ में महापौर प्रत्याशी कांता कर्दम, गाजियाबाद में आशा शर्मा और सहारनपुर में संजीव वालिया आगे चल रहे हैं. राजधानी लखनऊ में शुक्रवार को इतिहास बनने जा रहा है. लखनऊ के इतिहास में आज तक कोई भी महिला महापौर की कुर्सी पर नहीं बैठी. आजादी के बाद पहली बार लखनऊ की सीट महिलाओं के लिए आरक्षित की गई है. लखनऊ से भाजपा उम्मीदवार आगे चल रही हैं.

सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू हो गई थी. लखनऊ में भाजपा की तरफ से संयुक्ता भाटिया, सपा से मीरा वर्धन तलवार, बसपा से बुलबुल गोदियाल और कांग्रेस से प्रेमा अवस्थी मैदान में हैं. उप्र निकाय चुनाव तीन चरणों में संपन्न हुए थे. पहले चरण का मतदान 22 नवंबर, दूसरे चरण का 26 नवंबर और तीसरे चरण का 29 नवंबर को हुआ. यूपी में इस बार 653 निकायों में 12007 वाडरें में चुनाव हुआ था.

महापौर की 16 सीटों, पालिका परिषद चेयरमैन की 198 और नगर पंचायत की 438 सीटों पर मतदान हुआ था. मतगणना को पारदर्शी बनाने के लिए सीसीटीवी कैमरा सहित सुरक्षाबलों की भारी तैनाती हुई है। चुनाव के लिए 36289 बूथ और 11389 मतदान केंद्र बनाए गए थे. मतगणना के लिए कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं. विजय प्रत्याशी को जुलूस निकालने की अनुमति नही होगी. मतगणना स्थल के मार्ग पर सीमित वाहनो को भी प्रवेश मिलेगा.

किसी को भी मतगणना स्थल पर मोबाइल फोन ले जाने की अनुमति नही है. शांति एवं सुरक्षा की जिम्मेदारी सीओ स्तर के अधिकारी को दी गई है. मतगणना स्थल पर प्रत्याशी, उसके एजेंट या गणना एजेंट को ही प्रवेश दिया जा रहा है. इसके लिए प्रशासन ने उन्हें प्रवेश पत्र जारी किया है. मंत्री, सांसद, विधायक मतगणना स्थल पर नही जा सकते.

First published: 1 December 2017, 12:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी