Home » उत्तर प्रदेश » UP: CM Yogi given investigation order to Azam Khan's Jauhar University
 

सीएम योगी ने आज़म की जौहर यूनिवर्सिटी के ख़िलाफ़ दिया जांच का आदेश

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2017, 15:09 IST
Azam Khan

योगी आदित्यनाथ सरकार ने अखिलेश सरकार में मंत्री रहे वरिष्ठ सपा नेता आजम खां की जौहर यूनिवर्सिटी पर एक और जांच बैठा दी है. इसके साथ ही योगी सरकार ने पिछली समाजवादी पार्टी सरकार में जौहर यूनिवर्सिटी पर की गई कथित सरकारी मेहरबानी पर शिकंजा कसने का फैसला किया है.

यूपी सरकार ने प्रशासन से पूछा है कि किस विभाग ने यूनिवर्सिटी और या उसके आस-पास के क्षेत्र में क्या-क्या निर्माण कराया है और उस पर कितनी धनराशि खर्च की है. शासन के इस रिपोर्ट के बाद प्रशासन ने भी सभी विभागाध्यक्षों से पूरा ब्योरा तलब कर लिया है.

इस मामले में रामपुर के जिलाधिकारी  शिव सहाय अवस्थी ने कहा, "जौहर यूनिवर्सिटी में सरकारी धनराशि से संबंधित खर्चों का ब्योरा तलब किया गया है, जिसके बाद विभागवार रिपोर्ट मांगी की गई है."

प्रदेश के कद्दावर नेता पूर्व मंत्री आजम खां की जौहर यूनिवर्सिटी पर समाजवादी पार्टी सरकार काफी मेहरबान रही थी.  सपा सरकार में यूनिवर्सिटी को काफी सरकारी मदद मिली थी. अब सूबे में सरकार बदलने के बाद विरोधियों के निशाने पर आजम खान आ गए हैं. सरकारी धन के दुरुपयोग को लेकर मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री तक शिकायतें दर्ज कराई गई थीं.

विरोधियों ने वक्फ संपत्ति के साथ ही अन्य सरकारी जमीनों को कब्जाने का आरोप लगाते हुए जांच कराने की भी मांग रखी थी. प्रदेश की योगी सरकार ने उन शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए इन पर जांच का शिकंजा कसना शुरू कर दिया है.

वक्फ संपत्तियों और लोक निर्माण विभाग के गेस्ट हाउस का निर्माण कराए जाने पर जांच बैठाने के बाद यूपी सरकार ने अब यूनिवर्सिटी परिसर और उसके आस-पास सरकारी धनराशि से किए गए निर्माण पर जांच बैठा दी है. यूपी सरकार की ओर से उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने प्रशासन को पत्र लिखकर पूछा है कि यूनिवर्सिटी और उसके आस-पास के स्थानों पर कितनी धनराशि खर्च की गई है.

First published: 27 May 2017, 15:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी