Home » उत्तर प्रदेश » UP- Congress chief Raj Babbar says congress fight alone in state local body elections
 

यूपी के स्थानीय निकाय चुनावों में कांग्रेस की 'एकला चलो' की नीति

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 May 2017, 14:03 IST

समाजवादी पार्टी से गठबंधन कर यूपी विधानसभा चुनाव में सात सीटों पर सिमट जाने वाली कांग्रेस ने यूपी में होने वाले स्थानीय निकाय चुनावों में कांग्रेस ने अकेले लड़ने का फैसला किया है. आज यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने इसका एलान किया. राज बब्बर ने कहा कि हमारी पार्टी ने फैसला किया है कि वो राज्य में होने वाले आने वाले स्थानीय निकाय चुनाव में अकेले लड़ेगी.

समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन समाप्त करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि अभी ऐसा कोई निर्णय नहीं लिया गया है. उन्होंने कहा कि कोई भी निकाय चुनाव वर्कर के व्यक्तिगत संबंधों के आधार पर लड़े जाते हैं. पार्टी वर्कर जमीन पर लोगों से सीधे संपर्क में रहता है और वर्कर के जरिए कांग्रेस की नीतियों की पहचान बनती है. 

राज बब्बर ने कहा कि पार्टी के चुनाव चिन्ह के साथ व्यक्ति की पहचान होती है और इससे पार्टी की पहचान होती है. हम इसे आगे बढ़ाना चाहते हैं और इसी से संगठन मजबूत होता है जिससे पार्टी मजबूत होती है.

गौरतलब है कि यूपी में पहली बार समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन कर सत्ता में वापसी का फॉर्मूला बनाया था लेकिन यह फॉर्मूला फेल हो गया और भाजपा को यूपी में 26 साल बाद प्रचंड बहुमत मिला है.

दरअसल कांग्रेस ने पहले यूपी विधानसभा चुनाव में अकेले लड़ने का फैसला किया था और शीला दीक्षित को सीएम पद के लिए अपना चेहरा बनाया था, लेकिन चुनावी रणनीतिकार प्रंशात किशोर के कहने पर अंतिम समय में अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी से कांग्रेस ने गठबंधन कर लिया था.

First published: 1 May 2017, 11:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी