Home » उत्तर प्रदेश » UP: Hindu Yuva Vahini disrupted a prayer meeting in a Church in Maharajganj alleging forced religious conversion by foreign nationals
 

योगी की हिंदू युवा वाहिनी ने धर्मांतरण के आरोप लगाकर चर्च में प्रार्थना रुकवाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 April 2017, 11:10 IST
(एएनआई)

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का संगठन हिंदू युवा वाहिनी एक बार फिर चर्चा में है. गोरखपुर से सटे महाराजगंज जिले में कथित धर्मांतरण के आरोपों को लेकर हिंदू युवा वाहिनी ने एक चर्च में चल रही प्रार्थना सभा को रुकवा दिया. 

बताया जा रहा है कि चर्च की इस प्रार्थना सभा में 11 अमेरिकी पर्यटकों के साथ तकरीबन 150 लोग शामिल थे. शुक्रवार को हिंदू युवा वाहिनी के सदस्यों की शिकायत के बाद महाराजगंज पुलिस ने प्रार्थना को जबरन रुकवा दिया. 

हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि प्रार्थना सभा की आड़ में चर्च में धर्मांतरण कराया जा रहा था. इस मामले में महाराजगंज ज़िले के दथौली के चर्च के पादरी के खिलाफ़ शिकायत दर्ज कराई गई थी. पुलिस अधिकारी आनंद कुमार गुप्ता ने कहा कि प्रार्थना सभा के लिए कोई इजाज़त नहीं लेनी पड़ती, लेकिन शिकायत मिलने के बाद प्रार्थना सभा रोक दी गई.

एएनआई

योगी की सेना हिंदू युवा वाहिनी

योगी आदित्यनाथ ने 2002 में हिंदू युवा वाहिनी की स्थापना की थी. इसे सांस्कृतिक और सामाजिक संगठन बताया जाता है. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ सोसाइटी एक्ट के तहत रजिस्टर्ड इस संगठन के मुख्य संरक्षक हैं. इसे योगी सांस्कृतिक संगठन बताते हुए कहते रहे हैं कि संगठन ग्राम रक्षा दल के रूप में राष्ट्र विरोधी और हिंदू विरोधी गतिविधियों को रोकने का काम करता है.

सियासी जानकार मानते हैं कि हिंदू युवा वाहिनी को बनाने के पीछे दूसरी वजह थी. योगी ने इसे तब बनाया जब वह 1998 में 26 हजार वोट से जीतने के बाद दूसरा चुनाव 1999 में सिर्फ 7322 मतों से जीते. यह भी तथ्य है कि 2002 में हिंदू युवा वाहिनी की स्थापना के बाद से योगी की जीत का अंतर बढ़ता चला गया और 2014 के चुनाव में यह तीन लाख का आंकड़ा पार कर गया. 

पूर्वांचल के करीब 25 जिलों में हिंदू युवा वाहिनी का असर माना जाता है. उसके उग्र कार्यकर्ताओं के रवैए से कई बार पूर्वांचल में सांप्रदायिक तनाव के हालात बनते रहे हैं. गोरखपुर, देवरिया, महाराजगंज, कुशीनगर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, संतकबीरनगर, मऊ और आजमगढ़ में साम्प्रदायिक हिंसा की दर्जनों घटनाओं में हिंदू युवा वाहिनी से जुड़े लोगों के खिलाफ मुकदमे दर्ज हो चुके हैं.

First published: 8 April 2017, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी