Home » उत्तर प्रदेश » UP law minister Brajesh Pathak said government may withdraw politically motivated Communal Riots Case
 

राजनीति से प्रेरित सांप्रदायिक दंगों के मुकदमे वापस होंगे : यूपी सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 March 2018, 5:17 IST

उत्तर प्रदेश सरकार के कानून मंत्री बृजेश पाठक ने दंगो को लेकर बड़ी बात कही है. हाल के वर्षों में यूपी में हुए दंगों को लेकर योगी सरकार के मंत्री ने कहा कि सरकार बीते कुछ वर्षों में हुए दंगों को लेकर दर्ज किए गए मुकदमें को वापस लेने पर विचार कर रही है. लेकिन उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि सिर्फ वही मुकदमें वापस लिए जाएंगे जिन्हें किसी राजनैतिक बदले की भावना के तहत दर्ज कराया गया.

ये भी पढ़े-मुजफ्फरनगर दंगा 2013: योगी सरकार आरोपियों को देगी बड़ी राहत, वापस लेंगे 131मुकदमे

साल 2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगे पर बृजेश पाठक ने स्पष्ट किया कि राज्य सरकार सिर्फ उन मुकदमों को ही वापस लेने पर विचार करेगी जो मुकदमे सिर्फ राजनैतिक विद्वेष से दर्ज कराए गए हैं. दर्ज केस में हिंसा, दंगा भड़काने, हत्या की कोशिश और हत्या जैसे संगीन मामले शामिल हैं. पाठक ने कहा कि दंगे के मुकदमे भी आईपीसी के अंतर्गत आते हैं, लिहाजा ऐसे केस अगर राजनीति की भावना से किए गए हैं तो हम उन्हें वापस लेने के बारे में जल्द ही कोई बड़ा फैसला करेंगे.

गौरतलब है कि साल 2013 में समाजवादी पार्टी सरकार के कार्यकाल में मुजफ्फरनगर और आसपास के जिलों में हुए भीषण दंगों में 62 लोगों की मौत हो गई थी और हजारों  लोग बेघर हो गए थे. इन दंगों को लेकर 1455 लोगों पर कुल 503 मुकदमे दर्ज किए गए थे.

First published: 23 March 2018, 5:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी