Home » उत्तर प्रदेश » UP: Protest against Pakistan and death sentence given to Kulbhushan Jadhav outside Islamic Centre of India in Lucknow
 

कुलभूषण जाधव की फांसी के ख़िलाफ़ लखनऊ में मुस्लिमों का प्रदर्शन

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 April 2017, 16:44 IST
(एएनआई)

कुलभूषण जाधव को मौैत की सज़ा दिए जाने के खिलाफ भारत में विरोध प्रदर्शन का सिलसिला तेज हो गया है. संसद से लेकर सड़क तक इस मुद्दे पर भारत में विरोध और गुस्से का इज़हार किया गया. 

जहां एक ओर संसद में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह औऱ विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान को साफ लहजों में सख्त चेतावनी दी. वहीं दिल्ली से तकरीबन पांच सौ किलोमीटर दूर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी विरोध के सुर देखने को मिले. 

लखनऊ में इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के बाहर मुस्लिम समाज के लोगों ने पाकिस्तान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. दारुल उलूम फरंगी महल की तरफ से किए गए इस प्रदर्शन में पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी की गई. इस दौरान पाकिस्तान को संबोधित तख्तियां भी लोगों के हाथों में देखी गईं. जिस पर लिखा था- पाकिस्तान, कुलभूषण जाधव को रिहा करो, रिहा करो.

एएनआई

पाकिस्तान ने बताया था रॉ एजेंट

गौरतलब है कि पाकिस्तान में सैन्य अदालत ने कुलभूषण जाधव को जासूसी के आरोप में मौत की सजा सुनाई है. तीन मार्च 2016 को उन्हें गिरफ्तार किया गया था. पाकिस्तान के आईएसपीआर की प्रेस रिलीज के मुताबिक कुलभूषण जाधव पर बलोचिस्तान और कराची में विध्वंसक गतिविधियों में शामिल होने का आरोप है.

पाकिस्तान ने कुलभूषण को भारत की खुफिया एजेंसी रॉ (रिसर्च एंड एनालिसिस विंग) का एजेंट भी बताया था. हालांकि भारत पाकिस्तान के दावों को नकारता रहा है. राज्यसभा में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस मुद्दे पर पाकिस्तान को दो टूक सुनाते हुए कहा कि अगर उसने कुलभूषण को फांसी दी, तो इसके गंभीर नतीजे भुगतने के लिए तैयार रहे. भारत ने कुलभूषण को सजा के एलान के बाद 12 पाकिस्तानी नागरिकों की रिहाई को भी टाल दिया था.

First published: 11 April 2017, 16:44 IST
 
अगली कहानी