Home » उत्तर प्रदेश » UP-yogi government canceled former cm akhilesh yadav smart phone scheme.
 

अखिलेश की स्मार्टफोन योजना को योगी ने किया बाय-बाय

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 April 2017, 12:28 IST

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सत्ता संभालने के बाद ताबड़तोड़ फैसले लिए हैं. अपने से पहले की अखिलेश सरकार के कई फैसलों को वो अभी तक पलट चुके हैं .इसमें समाजवादी पेंशन भी प्रमुख है. योगी का कहना है कि इन फैसलों में भारी खामी है. सूत्रों के मुताबिक मिली जानकारी के अनुसार अब बुधवार को योगी सरकार ने अखिलेश यादव सरकार की एक और  चर्चित योजना को रद्द कर दिया है. अखिलेश यादव ने अपनी सरकार के कार्यकाल के अंतिम दौर में स्मार्ट फोन योजना को शुरु कर दिया था जिसमें यूपी के 5 करोड़ लोगों को स्मार्ट फोन देने की घोषमा की थी. कल योगी ने इस स्कीम को रद्द कर दिया है.

 

अखिलेश यादव का मानना था कि  इस योजना के जरिये वो सीधे जनता तक पहुंचने सकती है. इस स्कीम का लक्ष्य  राज्य के लोगों तक सरकार की सभी योजनाओं की जानकारी आसानी से पहुंचाना था .इस योजना के लागू होने के बाद 1 करोड़ से ज्यादा रजिस्ट्रेशन हो चुके थे. यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव यादव ने चुनाव प्रचार के दौरान जमकर इस योजना का प्रचार किया था.

यूपी की कल कैबिनेट की बैठक में उन्होंने पांच महत्वपूर्ण पैसले लिए. मंगलवार को कैबिनेट बैठक में योगी सरकार ने कई एयरपोर्ट के नाम बदल दिए हैं. इनमें गोरखपुर हवाई अड्डा के सिविल टर्मिनल का नाम महा योगी गोरखनाथ जी होगा. आगरा एयरपोर्ट का नाम दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर रखा जाएगा.इसके अलावा कल यूपी पुलिस के कुल 626 पुलिस कर्मियों का ट्रांसफर करने के आदेश दिए गए.

First published: 19 April 2017, 12:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी