Home » उत्तर प्रदेश » Uttar Pradesh: Pratapgarh ITI Student Suicide at Home due to mental torture
 

मैं कायर नहीं हूं..मुझे माफ कर देना पापा..लिखकर ITI के छात्र ने उठाया ऐसा कदम, जिसने देखा निकल गई उसकी चीख

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 November 2020, 22:58 IST

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ से दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, प्रताड़ना के चलते एक 20 वर्षीय आईटीआई के छात्र ने आत्महत्या कर ली है. छात्र को बीते कुछ दिनों से कुछ लोग ब्लैकमेल कर रहे थे, जिसके कारण वो काफी परेशान रहता था. इस मामले में पुलिस को एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ था, जिसके आधार पर पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है.

छात्र द्वारा मानसिक उत्पीड़न के चलते आत्महत्या के मामले की सूचना मिलते ही पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया . आनन फानन में मौके पर सीओ तथा कोतवाल भारी पुलिस फोर्स के साथ पहुंचे. जी न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, लालगंज कोतवाली के बेलहा गांव में जोखू लाल वर्मा के 20 वर्षीय पुत्र धीरेंद्र प्रतापगढ़ में आईटीआई का छात्र था. शनिवार को छुट्टी में गांव गया था.


शनिवार दोपहर धीरेंद्र की मां गुड्डी जब खेत गई थी, उस दौरान धीरेंद्र दूसरी मंजिल के एक कमरे में गया और कमरा बंद कर फंदे से झूल गया. जब उसकी मां खेत से लौटी तो धीरू को खाना देने छत पर गई. मां के आवाज देने पर भी कमरे के अंदर से कोई आवाज नहीं आई.

इसके बाद मां ने कमरे को खटखटाया तो भी अंदर से कोई आवाज न मिलने पर वह अनहोनी की आशंका में कांप उठी. जिसके बाद उसने कमरे के रोशन दान से अंदर झाका तो उसकी चीख निकल गई. गुड्डी की चीख सुन परिवार के बाकी लोग भी छत पर गए. वहीं परिवार की चीख पुकार सुन गांव के लोग बड़ी तादाद में जोखू शर्मा के घर पर जुटे.

धीरेंद्र ने आत्महत्या का कदम उठाने से पहले एक भावनात्मक पत्र लिखा था जिसमें उसने कहा कि वो कायर नहीं है. छात्र ने सुसाइट नोट में लिखा,"सॉरी पापा. मैं कायर नहीं हूं. हीरा सिंह और भीषम सिंह के उत्पीड़न के चलते सुसाइड कर रहा हूं. मुझे माफ कर देना." इस मामले में छात्र के पिता द्वारा पुलिस को तहरीद देकर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की गई है.

वहीं पुलिस ने बताया कि आईटीआई के 20 वर्षीय छात्र की खुदकुशी के लिए तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. लालगंज एसएचओ संजय यादव ने कहा,"बेल्हा गांव का रहने वाला धीरेंद्र (20) प्रतापगढ़ में आईटीआई का छात्र था. शनिवार को उसने अपने घर पर फांसी लगा ली." यादव ने कहा,"जब पुलिस घटना स्थल पर पहुंची, तो उसमें एक सुसाइड नोट मिला, जिसमें धीरेंद्र ने प्रदीप सिंह और भीम सिंह सहित तीन लोगों को प्रताड़ित करने का आरोप लगाया और उन्हें आत्महत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया था."

दिल्ली से उत्तर प्रदेश आने वाले लोगों का होगा कोरोना वायरस का टेस्ट, शादी में शामिल होने वाली लोगों की संख्या हो सकती है कम

First published: 22 November 2020, 22:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी