Home » उत्तर प्रदेश » violence erupts during the tiranga yatra of abvp vhp in kasganj up one dead one injured, yogi adityanath
 

गणतंत्र दिवस के मौके पर दंगों की आग में जला यूपी, तिरंगा यात्रा में शामिल शख्स की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 January 2018, 10:46 IST

यूपी में जबसे योगी आदित्यनाथ की सरकार बनी है राज्य दंगों की आग में जल रहा है. 26 जनवरी को देश जब गणतंत्र दिवस मना रहा था तो यूपी एक बाद फिर जंग का मैदान बन गया. यूपी के कासगंज में दो समुदायों के बीच भड़की हिंसा ने तनाव का रूप ले लिया. हिंसा तब हुई जब VHP और ABVP के लोगों ने तिरंगा यात्रा निकाली थी.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जब वीएचपी और एबीवीपी के लोग तिरंगा यात्रा निकाल रहे थे तो आरोप है कि एक समुदाय विशेष के लोगों ने बाइक पर निकली यात्रा पर पथराव कर दिया इसके बाद वहां हिंसा भड़क उठी. देखते ही देखते इस हिंसा ने विकराल रूप ले लिया और रैली में शामिल एक शख्स चंदन की मौत हो गई.

 

जहां ये सारा बवाल मचा उस जगह से कोतवाली थाना महज 100 कदम की दूरी पर है. लेकिन पुलिस पर आरोप है कि वह वक्त रहते हिंसा नहीं रोक पाई. पुलिस पर देर से आने के आरोप लगे रहे हैं. हालांकि पुलिस का कहना है कि वो समय पर दंगा स्थल पर पहुंच गई थी. पुलिस का कहना है कि परेड की वजह से पुलिस तुरंत आ गई थी और मौके को काबू में कर लिया था. पुलिस ने कहा, "नहीं बिल्कुल नहीं, देर से आने वाली बात गलत बात है. 10 मिनट में सब लोग आ गए थे."

 

यूपी के एडीजी (कानून व्यवस्था) आनंद कुमार का कहना है, "इस समय पूरी फोर्स वहां पर लगी हुई है. जिला प्रशासन के अधिकारी वहां मौजूद हैं. इस समय स्थिति तनावपूर्ण जरूर है लेकिन नियंत्रण में है. किसी प्रकार की हिंसा नहीं हो रही है. कासगंज में चारों तरफ अब पुलिस का पहरा है. आसपास के इलाकों से भी सुरक्षा बल मंगा लिए गए हैं. रात भर सुरक्षा बलों की गश्त होती रही."

वहीं दूसरी तरफ तिरंगे में लिपटे बेटे के शव के पास रो रही मां के आंसू थम नहीं रहे हैं. चंदन के पिता का कहना है, "बच्चे भारत माता की जय और वंदे मातरम् कहते हुए अपने हाथों में झंडे लेकर जा रहे थे. तहसील रोड पर कुछ लोगों ने मुझे बताया कि एक समुदाय विशेष के लोगों ने कहा कि इधर से क्यों कह रहे हो. बाद में गाड़ी में डंडे वगैरह घुसाकर फायरिंग कर मेरे बच्चे को मार दिया. मैं यही चाहता हूं कि शहर में शांति बनी रहे."

बवाल में हुई गोलीबारी में नौशाद नाम का युवक भी जख्मी हुआ है. इस दंगे में एक मस्जिद में भी आग लगा दी गई थी. इसके निशान साफ दिख रहे हैं.

First published: 27 January 2018, 10:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी