Home » उत्तर प्रदेश » Yogi Adityanath: Lucknow not being in list of cleanest cities matter of concern
 

सबसे साफ़ शहरों की सूची से लखनऊ के नदारद रहने पर योगी की नसीहत

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 May 2017, 14:03 IST

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने देश के सबसे स्वच्छ शहरों की सूची में लखनऊ का नाम न होने पर नाराज़गी जताई है. केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने गुरुवार को 434 शहरों की जो रैंकिंग जारी की है, उसमें सबसे बुरी हालत उत्तर प्रदेश की है. 

50 सबसे स्वच्छ शहरों की लिस्ट में केवल पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी को 32वीं रैंकिंग हासिल हुई, वहीं देश के 50 सबसे गंदे शहरों में यूपी के 25 शहर हैं. यही नहीं गोंडा का नाम इस लिस्ट में आख़िरी पायदान यानी 434वें नंबर पर है. 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि लखनऊ का नाम साफ़ शहरों की सूची में न होना गंभीर चिंता का विषय है. योगी ने लखनऊ के डिप्टी मेयर को 15 दिन में सफ़ाई व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं.

434 शहरों की रैंकिंग में मध्य प्रदेश के इंदौर को देश के सबसे साफ-सुथरे शहर का दर्जा मिला है, वहीं राजधानी भोपाल इस मामले में दूसरे नंबर पर है. स्वच्छ सर्वेक्षण-2017 के तहत 50 सबसे स्वच्छ शहरों की सूची में गुजरात के सबसे ज़्यादा 12 शहर हैं. वहीं, मध्य प्रदेश के 11 और आंध्र प्रदेश के 8 शहर टॉप-50 में शामिल हैं.

First published: 6 May 2017, 14:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी