Home » उत्तर प्रदेश » Yogi Adityanath recommended CBI inquiry in Gomti River Front case
 

CBI करेगी गोमती रिवर फ्रंट प्रोजेक्ट में गड़बड़ियों की जांच

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 June 2017, 21:17 IST

गोमती रिवर फ्रंट प्रॉजेक्ट में कथिततौर पर हुई गड़बड़ियों की जांच के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सीबीआई जांच की सिफ़ारिश कर दी है. अनियमितताओं को जांचने के लिए योगी आदित्यनाथ ने एक कमिटी गठित करने का निर्देश दिया था. नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना इस कमिटी की अध्यक्षता कर रहे थे. खन्ना की रिपोर्ट में दोषियों का पता चलने के बाद योगी ने सीबीआई जांच की सिफ़ारिश की है.

खन्ना समिति ने भी अपनी रिपोर्ट में कहा था कि दोषियों पर कार्रवाई के लिए सीबीआई जांच होनी चाहिए. इसके पहले बनी न्यायिक समिति ने कई लोगों को गड़बड़ियों का दोषी पाया था. इनमें जेई, एई, अधीक्षण अभियंता, मुख्य अभियंता, परियोजना अधिकारी, विभाग अध्यक्ष, प्रमुख सचिव सिंचाई और मुख्य सचिव आदि शामिल थे.

खन्ना समिति की रिपोर्ट कहती है कि इस प्रोजेक्ट में हर स्तर पर पैसे की बंदरबांट हुई है. हर तरह की मनमानी के अलावा बेहद साठगांठ के साथ काम किया गया है. माना जा रहा है कि सीबीआई जांच के दौरान पिछली सरकार से जुड़े नेता भी इसकी चपेट में आ सकते हैं.

First published: 19 June 2017, 16:25 IST
 
अगली कहानी