Home » उत्तर प्रदेश » yogi government changes the rules for recruitment of up police constable in uttar pradesh for youths.
 

जानिए यूपी पुलिस में कांस्टेबल बनने के लिए क्या हैं नए नियम?

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 August 2017, 12:18 IST

यूपी पुलिस में सिपाही बनने की चाह रखने वाले युवाओं के लिए यूपी सरकार ने नए नियम बनाए हैं. नए नियमों के मुताबिक युवाओं को लिखित परीक्षा के आधार पर सिपाही चुना जाएगा. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में यह फैसला किया लिया गया.

बैठक के बाद राज्य सरकार के प्रवक्ता और बिजली मंत्री श्रीकांत शर्मा ने इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा, "पुलिस भर्ती के कुछ नियम बदले गए हैं. अब पुरुष वर्ग में 18 से 22 वर्ष और महिला वर्ग में 18 से 25 वर्ष आयु के अभ्यर्थी कांस्टेबल पद के लिए आवेदन कर सकते हैं."

उन्होंने कहा कि पहले दसवीं पास युवाओं के लिए 100 अंक, 12वीं पास के लिए 200 अंक और शारीरिक दक्षता के लिए 200 अंक जोड़ने की व्यवस्था थी. हमने इस व्यवस्था को समाप्त कर दिया गया है और अब केवल लिखित परीक्षा होगी.

शर्मा ने कहा कि अब युवाओं को शारीरिक दक्षता परीक्षा केवल पास करनी होगी और इसके नंबर नहीं जुड़ेंगे, लेकिन शारीरिक दक्षता के लिए मानक पहले की तरह ही रहेंगे. यदि आवेदन करने वाला युवक या युवती इसमें फेल हो गये तो उन्हें भर्ती प्रक्रिया से बाहर होना पडे़गा.

उन्होंने बताया कि लिखित परीक्षा में 'नेगेटिव मार्किंग' होगी और इसका अनुपात भर्ती बोर्ड तय करेगा. शर्मा ने बताया कि नयी व्यवस्था में 300 अंक के वस्तुनिष्ठ प्रश्न होंगे, जिनमें नेगेटिव अंक की व्यवस्था होगी.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद प्रमुख सचिव (गृह) अरविन्द कुमार ने कहा कि शारीरिक दक्षता परीक्षा में दौड़ के मानक अब पहले से कडे़ कर दिये गए हैं. पुरुष वर्ग में 4.8 किलोमीटर की दौड़ अब 27 मिनट की बजाय 25 मिनट में पूरी करनी होगी.

इसी तरह महिला वर्ग में 2.4 किलोमीटर की दौड़ 16 मिनट की बजाय 14 मिनट में पूरी करनी होगी. उन्होंने कहा कि राज्य में पुलिस के एक लाख एक हजार पद रिक्त हैं और इन्हें चरणबद्ध ढंग से भरने का प्रयास किया जाएगा.

First published: 9 August 2017, 12:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी