Home » उत्तर प्रदेश » yogi governments presented its first annual budget of Rs 3,84,659 Crore for up.
 

योगी सरकार ने 3 लाख 84 हज़ार करोड़ का पहला बजट पेश किया

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 July 2017, 15:35 IST

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई वाली सरकार ने वर्ष 2017-18 के लिए 3 लाख 84 हजार 659 करोड़ रुपये का भारी भरकम बजट पेश किया. योगी सरकार की तरफ से राज्य के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने वर्ष 2017-18 का बजट पेश किया. 

योगी सरकार के पहले बजट की खास बात यह है कि किसानों की कर्जमाफी के लिए बजट से ही 36 हजार करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है. योगी सरकार का यह बजट पिछली अखिलेश सरकार की 2016-17 के बजट से 10.9 प्रतिशत अधिक है.

 

बजट के अंदर आबकारी शुल्क से राजस्व संग्रह लक्ष्य 20 हजार 593 करोड़ 23 लाख रुपये तय किया गया है. वहीं अनुमानित राजकोषीय घाटा 2017-18 में 42967,86 करोड़ का अनुमानित है.

वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने सदन में कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार के इस बजट में प्रदेश के लघु एवं सीमांत किसानों के फसली कर्ज की राज्य सरकार द्वारा अदायगी किए जाने की व्यवस्था की गई है. सरकार की तरफ से इसके लिए 36 हजार करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है.

उन्होंने कहा, "हमारी सरकार द्वारा पहले 100 दिनों के भीतर ही गन्ना किसानों को 22 हजार 682 करोड़ रुपये का भुगतान सुनिश्चित कराया जा चुका है." बजट में दीन दयाल उपाध्याय किसान समृद्घि योजना के लिए 10 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है.

First published: 11 July 2017, 15:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी