Home » उत्तर प्रदेश » Young Man from Agra live streamed His suicide on Facebook
 

Facebook Live कर युवक ने दिखाया अपनी मौत का मंजर, दुहाई देते रह गए दोस्त…

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 July 2018, 15:33 IST
(प्रतीकात्मक फोटो)

यूपी के आगरा में एक युवक ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. युवक सेना में नौकरी ना लग पाने से परेशान था. युवक ने फेसबुक लाइव कर सबसे अपनी मौत का मंजर दिखाया और फिर हमेशा के लिए सबसे जुदा हो गया. फेसबुक लाइव के दौरान वीडियो पर उसके कई दोस्त कमेंट कर उसे रोकने की कोशिश करते रहे. लेकिन उसने किसी की ना सुनी और फंदे पर झूल गया. इस लाइव में फांसी का फंदा लगाने से लेकर मौत तक का वीडियो शामिल है.

मामला आगरा के थाना न्यू आगरा क्षेत्र के रेणुका विहार कालोनी का है. मृतक मुन्ना कुमार ने बीएससी तक पढ़ाई की थी. वो 17 साल की उम्र से सेना में नौकरी की तैयारी कर रहा था. उसे सेना में नौकरी का जुनून था लेकिन उम्र की सीमा बीत जाने से वह तनाव में आ गया. जिससे वो टूट गया और मौत को गले लगाने के फैसला कर लिया. मरने से पहले मुन्ना ने दो पेज का सुसाइड नोट लिखा है. जिसमें उसने अपने माता-पिता से माफी मांगी है साथ ही इसमें अपना पूरा दर्द बयां किया. इस सुसाइड नोट के आखिर में उसने जय हिंद लिखा है.

मुन्ना ने खुदकुशी की तैयारी उस वक्त की जब परिवार के सभी सदस्य सो रहे थे. उसने फांसी का फंदा बनाकर पहले फेसबुक लाइव किया. मौत का ये वीडियो सोशल मीडिया की सुर्खिया बन चुका है. वहीं परिवार के लोग मुन्नी की मौत से सदमे में हैं. परिजनों का कहना है कि मुन्ना सेना में जाकर देश की सेवा करना चाहता था. जब उसका सेना में सलेक्शन नहीं हुआ तो उसने खुदकुशी कर ली.

पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है. साथ ही फेसबुक पर लाइव किए गए वीडियो की भी जांच कर रही है. हरीपर्वत के सीओ अभिषेक कुमार सिंह के मुताबिक गुरुवार सुबह मुन्ना सिंह का शव मिला है. साथ में एक वीडियो और सुसाइड नोट भी मिला है. जिसमें उसने कहां है कि उसे कुछ काम नहीं मिला उसे अपने ऊपर विश्वास नहीं रहा इसलिए आत्महत्या कर रहा हूं.

मृतक के भाई विकास ने बताया कि उनकी शुरू से सेना में जाने की इच्छा थी. कई बार उन्होने सेना में रनिंग का टेस्ट भी दिया था और उनकी उम्र भी हो गई थी. इसलिए वो टूट गए. विकास ने बताया कि मुन्ना करीब 8 साल से सेना में भर्ती होने की कोशिश कर रहे थे.

ये भी पढ़ें- बुराड़ी कांड : मृतकों का दिमाग पढ़ने के लिए अब होगा मनोवैज्ञानिक पोस्टमॉर्टम

First published: 12 July 2018, 15:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी