Home » वायरल न्यूज़ » Amazing City of Alaska: Polar night Alaska City utqiagvi will see sunrise after 66 days
 

अब इस शहर में अगले साल निकलेगा सूरज, आखिरी बार 18 अक्टूबर को दिखाई दिया सूरज, जानिए क्या है वजह?

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 November 2020, 12:56 IST

उत्तर भारत (North India) के पहाड़ी इलाकों (Hills Areas) में हुई बर्फबारी (Snowfall) के बाद मैदानी इलाकों में शीतलहर शुरु हो गई है. इसी के साथ लोगों ने गर्म कपड़े पहनना शुरु कर दिए हैं. दिन भी अब छोटे होने लगे हैं और रातें बड़ी और सर्द. दिन में सूरज कम समय के लिए निकलने लगा है. लेकिन आपको हैरानी होगी कि भारत में सर्दियों के दिनों में सूरज कुछ घंटों के लिए ही सही लेकिन निकलता जरूर है. लेकिन अलास्का के एक शहर की हालत बेहद खराब है. अब इस शहर में अगले साल ही सूरज निकलेगा. आखिरी बार इस शहर में 18 अक्टूबर को आखिरी बार सूरज देखा गया था.

दरअसल, अलास्का के Utqiagvik शहर में अब 66 दिन बाद सूरज निकलेगा. इस शहर में इस साल आखिरी सूर्यास्त 18 अक्टूबर को हुआ था. तमाम यूजर्स ने इस शहर की तस्वीरें सोशल मीडिया में शेयर की हैं. हालांकि, वे लोग थोड़े कंफ्यूज हैं जिन्हें ऐसा होने की वजह का पता नहीं चल रहा है. दरअसल, यहां हर साल इस तरह का बदलाव होता है. इस बदलाव को ‘पोलर नाइट’ (Polar Night) कहा जाता है. हालांकि, ऐसा नहीं है कि 23 जनवरी 2021 तक शहर अंधेरे में डूबा रहेगा.


यहां दिन में कुछ घंटे रोशनी रहेगी. लेकिन लोगों को चमकता सूरज (Sun) दिखाई नहीं देगा. इंस्टाग्राम पर kirsten_alburg सूर्यास्त का एक छोटा सी वीडियो क्लिप (Video Clip) शेयर की है. वह वीडियो में कह रही हैं कि Utqiagvik में यह साल 2020 का आखिरी सूर्यास्त है. वीडियो के कैप्शन में उन्होंने बताया, इस पल को देखते हुए उनकी आंखें नम हो गईं. बता दें कि स्कूल के वक्त आपने पढ़ा होगा कि पृथ्वी (Earth) अपनी एक्सिस पर टेढ़ी खड़ी है. इसके कारण उसके दोनों पोल्स यानी नॉर्थ और साउथ पोल पर सूरज की रोशनी एक साथ नहीं पड़ती.

12 साल पहले खो गई थी बेशकीमती अंगूठी, छींक के दौरान निकली नाक से, सभी रह गए हैरान

अचानक से हिलने लगे घर में रखे पौधे, वीडियो देखकर रह जाएंगे हैरान

यही कारण है कि नॉर्थ में 6 महीने अगर दिन रहता है तो साउथ पोल में उन दिनों रात होती है. नॉर्थ पोल को आर्कटिक सर्कल कहते हैं. जबकि साउथ पोल को अंटार्कटिक सर्कल. अलास्का का Utqiagvik शहर आर्कटिक सर्कल में पड़ता है. उसमें भी यह छोटा शहर बाकी जगहों के मुकाबले ऊंचाई पर है.

खाते-खाते बच्चे को आ गई अचानक हंसी, वीडियो देखकर छूट जाएगी आपकी हंसी

इस महिला ने की 87 घंटों में दुनिया के 208 देशों की यात्रा कर बनाया नया रिकॉर्ड

ऐसे में 18 नवंबर के बाद से इस शहर के ऊपर सूरज ना के बराबर दिखाई दिया. गौरतलब है कि नवंबर से जनवरी तक Utqiagvik शहर में कड़ाके की ठंड पड़ती है. तापमान माइनस 23 डिग्री तक चला जाता है. साथ ही यहां विजिबलिटी भी काफी कम हो जाती है.

इंसान ही नहीं जानवर भी करते हैं अपने दोस्तों के साथ मजाक, Video में देखें पानी पी रहे तेंदुआ के साथ हुआ क्या?

First published: 22 November 2020, 12:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी