Home » वायरल न्यूज़ » Ball python laid 7 eggs at the Saint Louis Zoo
 

15 साल से अकेली रह रही मादा अजगर ने 62 साल की उम्र में दिए सात अंडे, एक्सपर्ट हुए हैरान

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 September 2020, 10:57 IST

सेंट लुइस चिड़ियाघर के कर्मचारी इन दिनों काफी हैरान हैं क्योंकि ज़ू की एक मादा अजगर जिसकी उम्र करीब 62 साल है उसने 7 अंडे दिए हैं. ज़ू के कर्मचारी इसलिए भी हैरान हैं क्योंकि यह मादा अजगर करीब 15 सालों से किसी नर सांप के संपर्क में नहीं आई है.

CNN की रिपोर्ट के अनुसार, ज़ू के हेरपेटोलॉजी डिपार्टमेंट के जूलॉजिकल मैनेजर मार्क वेनर ने बताया कि यह मादा अजगर जो साल 1961 से ज़ू में हैं उसने 23 जुलाई को अंडे दिए हैं. उन्होंने कहा."यह एक आश्चर्य की बात थी. ईमानदारी से कहें तो, हमें उम्मीद नहीं थी कि वह एक बार और अंडे देगी." मार्क वेनर ने बताया कि ज़ू के कर्चारियों ने मादा अजगर के अंडे देने से पहले उसमें कुछ बदलाव देखें थे, लेकिन वे सूक्ष्म थे.


चिड़ियाघर ने मादा अजगर को कोई नाम नहीं दिया है. लेकिन उसकी पहचान के लिए उसे 361003 नंबर दिया गया है. यह मादा अजगर, बॉल पायथन है, जो मूल रूप से मध्य और पश्चिमी अफ्रीका के क्षेत्रों में पाए जाते हैं और वे अलैंगिक रूप से प्रजनन कर सकते हैं, जिसे संकाय पार्थोजेनेसिस के रूप में जाना जाता है.

मार्क वेनर ने बताया कि मादा सांप कई सालों तक शुक्राणु को स्टोर करके रख सकती हैं, ऐसे में बिना नर के संपर्क में आए अंडे देना हैरान करने वाला नहीं है. लेकिन उन्होंने इस बात पर हैरानी जताई कि यह इतने लंबे समय बाद हुआ है. उन्होंने बताया कि अभी तक सबसे पुराने मामले में मादा ने सात साल बाद अंडे दिए थे. मार्क वेनर ने आगे कहा,"ऐसा होना दुर्लभ तो है लेकिन असंभव नहीं क्योंकि ये प्रजाति कई बार बिना पार्टनर के भी अंडे देती है. ये सांप कई बार वर्षों पर स्पर्म्स को स्टोर कर रखते हैं."

चिड़ियाघर के कर्मचारियों ने इस बात की जानकारी दी है कि इस मादा अजगर ने आखिरी बार साल 2009 में अंडे दिए थे, लेकिन उस दौरान किसी भी अंडे से बच्चे बाहर नहीं आए. दावा है कि उस दौरान भी यह मादा अजगर किसी नर सांप के संपर्क में नहीं आई थी. वानर ने कहा कि यह मादा अजगर आखिरी बार 1980 के दशक के अंत और 1990 की शुरुआत में एक नर अजगर या किसी नर सांप के संपर्क में आई होगी, क्योंकि कर्मचारी उस दौरान सांपों के पिंजरों की सफाई करने के दौरान उन्हें एक साथ एक बाल्टियों में एक साथ रख देते थे.

वार्नर ने कहा कि उन्होंने दो अंडों को आनुवांशिक परीक्षण के लिए लिया है ताकि यह निर्धारित किया जा सके कि यह अंडे अलैंगिक रूप के प्रजनन से हुए हैं या नहीं. दो अंडे खराब हो गए हैं जबकि तीन बचे हुए हैं और उन पर नजर रखे हुए हैं.

बीमा की रकम पाने के लिए महिला ने काट लिया अपना हाथ, अब हुई दो साल की जेल

First published: 13 September 2020, 10:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी