Home » वायरल न्यूज़ » Bright Fireball Seen in New Zealand’s Sky Caught On Camera Watch Video
 

Video: आसमान से धरती की ओर आ रही थी आग के गोले जैसी चीज, देखकर थर-थर कांपने लगे लोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 January 2019, 23:50 IST

दूसरे ग्रह के परिजीवियों यानि एलियंस का पृथ्वी पर आने की तमाम कहानियां सामने आती रही है. अब आसमान से धरती की ओर आती हुई एक और चीज दिखाई दी है. जिसे देखकर सभी के होश उड़ हुए हैं. दरअसल, आसमान में लोगों ने आग के गोले जैसी कोई वस्तु धरती की तरफ तेजी से आती हुई देखी. जिसे किसी ने कैमरे में कैद कर लिया. हालांकि अभी पता नहीं लगाया जा सका है कि आखिर वह है क्या चीज.

दरअसल, न्यूजीलैंड के उत्तर द्विप के आसमान में कुछ अजीब नजारा देखने को मिला. जहां आसमान में लोगों को आग के गोले जैसी चीज तेजी से धरती पर आती देखी. किसी को समझ नहीं आया कि आखिर ये है क्या?

न्यूजीलैंड के उत्तर द्विप के आसमान से धरती की तरफ आती दिखी इस आग के गोले जैसी चीज की तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रही हैं. वीडियो में देखा जा सकता है कि आग के गोले की तरह दिखने वाली एक आकृति की कोई चीज धरती की तरफ आ रही है. ये पूरा मामला न्यूजीलैंड के टॉरंगा में बीते शनिवार को करीब रात 9 बजे देखने को मिला.

WVLT-TV के मुताबिक, सोशल मीडिया यूजर्स ने बताया कि तेज आवाज आ रही थी और ऐसा लग रहा था जैसे आग का गोला दो टुकड़ों में नीचे की तरफ आर रहा है. कोई इस आग के गोले को उपग्रह बता रहा था तो कोई इसे उल्का पिंड.

ऑकलैंड एस्ट्रोनॉमिकल सोसायटी के अध्यक्ष बिल थॉमस ने स्थानीय मीडिया को बताया कि वह गिरते हुए उपग्रह से आने वाले प्रकाश को नियंत्रित नहीं कर सकते, लेकिन उन्होंने सोचा कि यह एक उल्कापिंड होने की अधिक संभावना है.

इस घटना के बाद भौतिक विज्ञान के प्रोफेसर रिचर्ड ईस्टर और ओटेगो म्यूजियम के डायरेक्टर इयान ग्रिफिन ने इस आग के गोले को रशियन सैटेलाइट का हिस्सा बताया है. रिचर्ड ईस्टर ने ट्विटर पर बताया कि रशियन मिलिट्री ने पहले संकेत दिए थे कि सैटेलाइट धरती पर फिर आ सकती है.

हालांकि Aerospace.org ने भविष्यवाणी की थी कि कोसमोस 2430 उपग्रह रविवार यानि 6 जनवरी को पृथ्वी के वायुमंडल में फिर से प्रवेश करेगा. खुद को एक फायरबॉल चेजर कहने वाले रवि जगतियानी ने अपने फेसबुक अकाउंट पर लिखा है कि यह आग का गोला रूस से कोसमोस 2430 उपग्रह का क्षय हो सकता है. उन्होंने लिखा कि मेरा मानना है कि यह निश्चित रूप से उपग्रह का गिरा हुआ हिस्सा ही था.

ये भी पढ़ें- इस सुंदर बगीचे में घूमना तो दूर नाम से ही कांपने लगते हैं लोग, यहां जाने वाला नहीं लौटता वापस

ये भी पढ़ें- देश के इस स्थान पर अक्सर आते हैं एलियंस, कई लोग देख चुके हैं स्पेसशिप

First published: 8 January 2019, 23:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी