Home » वायरल न्यूज़ » Catch Fact Check: Did people throw stones at Nitish Kumar's convoy during lockdown?
 

कैच फैक्ट चेक : क्या लॉकडाउन के दौरान लोगों ने नीतीश कुमार के काफिले पर पत्थर बरसाए ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 May 2020, 16:16 IST

coronavirus : कोरोना वायरस महामारी के दौर में सोशल मीडिया पर कई तरह की झूठी और भ्रामक खबरें फैलाई जा रही हैं. कई बार ख़बरों की सच्चाई का पता लगाना मुश्किल हो जाता है. यहां हमारी फैक्ट चेक टीम आपको इन ख़बरों की सच्चाई से अवगत कराती है. आज जिस वायरल खबर का जिक्र हम कर रहे हैं, उसमें एक वीडियो सोशल मीडिया पर इस समय तेजी से वायरल हो रहा है. यह वीडियो पत्थरबाजी का है. इस वीडियो को लेकर दावा किया गया है कि लॉकडाउन के दौरान बिहार के लोग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से नाराज हैं और लगातार उनका विरोध कर रहे हैं.

दावा- नीतीश कुमार के काफिले पर पत्थरबाजी हुई

तथ्य- यह एक पुराना वीडियो है, जिसे लॉकडाउन से जोड़कर चलाया जा रहा है

 

क्या वायरल वीडियो

फेसबुक पर तेजी से वायरल हो रहे वीडियो को राष्ट्रीय जनता दल के युवा नेता प्रेम पवन यादव ने अपने पेज पर शेयर किया है. इस वीडियो के साथ पोस्ट में लिखा गया है- “ये हैं हमारे बिहार के मुख्यमंत्री और भाजपा संघी नीतीश कुमार जो जगह-जगह पत्थर खाते घूम रहे हैं, और जनता को नैतिकता की पाठ पढ़ा रहे हैं, यह इसी लाइक हैं जनता भूखे मर रही है यह साहब AC में हवा खा रहे हैं इनके साथ जो हुआ क्या अच्छा हुआ.” लगभग 2 मिनट 30 सेकेंड के वीडियो में बहुत सारी गाड़ियां एक गांव से गुजर रही हैं. इस दौरान कुछ लोग काफिले में शामिल पुलिस की जीप पर पत्थरबाजी शुरू कर देते हैं. ग्रामीण बेहद उग्र तरीके से ईंट पत्थर चलाते हुए दिखाई दे रहे हैं. उनको रोकने का प्रयास भी किया जा रहा है.

 

क्या है वीडियो का सच

कैच फैक्ट चेक: सरकार ने COVID-19 के कारण प्रभावित कलाकारों को राहत पैकेज देने की घोषणा की है ?


हमारी फैक्ट चेक टीम ने जब इस वीडियो की पड़ताल की तो सामने आया कि यह वीडियो 2 साल पुराना है. फैक्ट चेक टीम को गूगल पर सर्च करने के बाद पता चला कि यह वीडियो 2018 में हुई एक घटना का है. उस वक्त नीतीश कुमार बिहार विकास यात्रा की समीक्षा कर रहे थे. समीक्षा के लिए नीतीश कुमार 13 जनवरी 2018 को बक्सर जिला के नंदन गांव पहुंचे. लोगों ने गांव में विकास नहीं होने को लेकर नीतीश से मुआयना करने की अपील की थी लेकिन अधिकारियों ने कम समय का हवाला दिया और निरीक्षण करने से इनकार कर दिया. जब काफिला बढ़ने लगा तो कुछ लोगों ने उस काफिले पर हमला बोल दिया.

कैच फैक्ट चेक: लॉकडाउन में ढील देने लिए सरकार ने बनाया 5 फेज का रोडमैप ?

इस दौरान नीतीश कुमार की गाड़ी आगे थी. पुलिस की एक गाड़ी पर लोगों ने ईंट और पत्थर मारने शुरू कर दिए, जिसके जवाब में पुलिस के जवानों ने भी पत्थरबाजी की थी. इस घटना में कई पुलिस वालों को भी चोटें भी आयी थी. अब सोशल मीडिया पर इस वीडियो को लॉकडाउन से जोड़कर वायरल किया जा रहा है.

कैच फैक्ट चेक : तीन दशक तक श्रम विभाग में मजदूरी करने वाले श्रमिकों को मिल रहे हैं 120000 रुपये ?

 

First published: 16 May 2020, 16:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी