Home » वायरल न्यूज़ » Coronavirus: AstraZeneca says coronavirus vaccine candidate should be effective against new strain in UK
 

Coronavirus: क्या ब्रिटेन में मिले कोरोना के नए स्ट्रेन के खिलाफ कारगर होगी वैक्सीन, एस्ट्रेजेनका की तरफ से आया ये जवाब

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 December 2020, 12:28 IST

ब्रिटेन में जब से कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिला है, उसके बाद से ही विश्व के कई देशों में भय का माहौल है. ब्रिटेन के शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि नया स्ट्रेन पुराने के मुकाबले 70 फीसदी तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले सकता है. हालांकि, कोरोना वायरस की वैक्सीन जरूर बन चुकी है जिस पर कई देशों ने भरोसा जताया है, लेकिन बीते कुछ दिनों से सवाल यही बना हुआ था कि क्या यह वैक्सीन नए स्ट्रेन पर भी कारगर होंगे. वहीं अब AstraZeneca के सीईओ ने इस बात की उम्मीद जताई है कि यह वैक्सीन नए स्ट्रेन पर भी कारगर होगी.

ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी और दवा निर्माता कंपनी एस्ट्राजेनेका ने मिलकर जिस कोरोना वायरस की वैक्सीन का निर्माण किया है, वो कोरोना के नए स्ट्रेन पर 100 फीसदी कारगर होगी और यह दावा एस्ट्राजेनेका के मुख्य कार्यकारी पास्कल सोरियट ने किया है.


द संडे टाइम्स को दिए इंटरव्यू में पास्कल सोरियट ने कहा,"अभी तक, हमें लगता है कि टीका प्रभावी रहना चाहिए. लेकिन हमें यकीन से ऐसा नहीं कह सकते हैं, इसलिए हम यह परीक्षण करने जा रहे हैं." इस दौरान एस्ट्राजेनेका के सीआई ने दावा किया कि शोधकर्ताओं ने उनकी कंपनी के लिए एक विनिंग फार्मूला खोज लिया है जो उनकी वैक्सीन को फाइजर या मॉर्डन की तरह ही प्रभावी बना देगा. एस्ट्राजेनेका वैक्सीन को इस सप्ताह, एपी नोटों को मंजूरी मिलने की उम्मीद है.

ऑस्ट्रियाई विश्वविद्यालय के साथ साझेदारी में विकसित किया गया एस्ट्राजेनेका का टीका शुरू में फाइजर और मॉर्डन की वैक्सीन के समान प्रभावी नहीं माना गया था. शुरूआत में कुछ मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया कि एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन सिर्फ 70 फीसदी ही कारगर है.

First published: 28 December 2020, 12:28 IST
 
अगली कहानी