Home » वायरल न्यूज़ » Divorced couple fighting Legal Battle For custody of their Children Judge Order Arrange the marriage
 

तलाक के बाद बच्चों की कस्टडी के लिए लड़ रहे थे माता-पिता, जज से सुनाया फैसला- करा दो शादी

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 October 2020, 15:59 IST

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत की लाहौर हाई कोर्ट में तलाकशुदा दंपती ने अपने बच्चों की कस्टडी के लिए दावा करते हुए याचिका दायक की थी. लेकिन कोर्ट ने उन्हें झटका लगा, क्योंकि जज ने किसी भी माता-पिता को कस्टडी देने की बजाए आदेश दिया कि दोनों कानूनी लड़ाई लड़ने के बजाए अपनी बच्ची की शादी जल्द से जल्द करें और अपने दोनों बच्चों के लिए एक अलग घर का इंतजाम करें, जहां जाकर दोनों अपने बच्चों से मिल सकते हैं.

ट्रिब्यून.कॉम.पीके की रिपोर्ट के अनुसार, लाहौर हाई कोर्ट में एक तलाकशुदा महिला ने याचिका दायर करते हुए अपील की थी कि उसे अपने बच्चों की कस्टडी मिले, क्योंकि उसके दोनों बच्चे अपने पिता और सौतेली मां के साथ खुश नहीं थे और उनकी सौतेली मां बच्चों पर जुल्म करती थी. बता दें, तलाक के बाद इन दोनों दंपती ने दूसरी शादी कर ली थी .


इस मामले में आदेश देने से पहले जज ने अपनी पिछली सुनवाई में याचिकाकर्ता के वकील से पूछा था कि वो किस कानून के आधार पर एक युवा लड़की को "ग़ैर मेहरम" में रहने के लिए भेज सकते हैं, जिससे उसकी मां ने शादी कर ली थी. इसके बाद याचिकाकर्ता के वकील ने कोर्ट में दलील देते हुए कहा था कि क्योंकि लड़की की शादी के समय कई सामाजिक सवाल उठेंगे, ऐसे में प्रतिवादी अपने दोनों बच्चों के लिए एक अलग घर की व्यवस्था करें, जहां दोनों जाकर अपने बच्चों से मिल सकते हैं. इस मामले की सुनवाई कर रहे न्यायमूर्ति फारूक हैदर ने याचिकाकर्ता के सुझावों की सरहाना की.

इस मामले की आखिरी सुनवाई शुक्रवार को हुई. वहीं न्यायाधीश के फैसाल सुनाने से पहले लड़की ने आदालत में रोते हुए कहा,"अगर कोर्ट मुझे मेरी मां के साथ रहने की अनुमति नहीं देगा तो मैं आत्महत्या कर लेगी, क्योंकि मैं काफी दिनों से तनाव में हूं और अपनी सौतेली मां के साथ खुश नहीं हूं."

रिपोर्ट के अनुसार, जज ने इस दौरान लड़की के पिता से कहा,"मुकदमेबाजी से छुटकारा पाओ. यह लड़की के भविष्य के लिए अच्छा नहीं है. वह आपकी बेटी है. उसकी देखभाल करें क्योंकि भगवान आपसे उसके बारे में सवाल पूछेंगें. यह सोचने का समय है कि आपकी बेटी अदालत में कह रही है कि वह आत्महत्या कर लेगी. अगर वह ऐसा करती है तो कौन जिम्मेदार होगा?"

पाकिस्तान में दो सगी बहनें एक महीने के अंदर बन गए सगे भाई, जानिए क्या है पूरा मामला

इंसान को मारकर उनके मांस से अचार और बिस्कुट बनाकर खाते थे यह पति-पत्नी, 30 लोगों को बनाया था अपना शिकार

First published: 25 October 2020, 13:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी