Home » वायरल न्यूज़ » Indonesian Imam Leading Prayer in The Mosque During Earthquake Video Goes Viral
 

मस्जिद में नमाज पढ़ रहे इमाम की आंखों के सामने आया दिल दहला देने वाला मंजर और फिर…

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 August 2018, 13:20 IST

इंडोनेशिया में हाल ही में आए भूकंप में कई लोगों की मौत हो गई. लोम्बोक में भूकंप बहुत खतरनाक था. भूकंप के दौरान का एक वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है. जिस वक्त भूकंप आया उसी दौरान इंडोनेशिया के बाली द्वीप की किसी मस्जिद में एक इमाम नमाज पढ़ा रहे थे. लेकिन भूकंप के बावजूद इमाम रुके नहीं और वो नमाज पढ़ाते रहे. यही नहीं उन्होंने नमाजियों को पूरी नजाम भी अदा कराई. इस वीडियो को देखकर हर कोई इमाम की तारीफ कर रहा है.

बता दें कि बाली के डेनपसर (Denpasar) की मस्जिद में इमाम नमाज पढ़ रहे थे. तभी 6.9 तीव्रता का भूकंप आ गया, लेकिन वो रुके नहीं और नमाज को पूरा किया. इमाम का ये वीडियो मोबाइल पर रिकॉर्ड किया गया है. जिसमें देखा जा सकता है, मस्जिद में इमाम नमाज पढा रहे हैं कई नमाजी इमाम के पीछे खड़े होकर नमाज पढ़ रहे हैं. तभी धरती हिलने लगती है.

वीडियो में देखा जा सकता है कि भूकंप आने से इमाम हिलते नजर आ रहे हैं. वो नीयत बांधे खड़े हैं और लगातार हिल रहे हैं. उनके पीछे खड़े कुछ लोग भूकंप आने पर भाग जाते हैं लेकिन कुछ लोग खड़े रहते हैं. जब जमीन तेज हिलती है तब भी इमाम नीयत नहीं तोड़ते और एक हाथ दीवार से लगा लेते हैं और नमाज पढ़ाते रहते हैं.

भूकंप के दौरान नमाज पढ़ाने के इमाम का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. ये वीडियो करीब 3 मिनट का है, जिसे यूजर्स खूब शेयर कर रहे हैं. इस वीडियो को फेसबुक पर लाखों व्यूज मिल चुके हैं. वहीं यूट्यूब और ट्विटर पर भी इस वीडियो को शेयर किया जा रहा है.

इंडोनेशिया के मौलवी युसुफ मंसूर ने इस वीडियो को इंस्टाग्राम पर शेयर किया है. जहां उनको 20 लाख से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं. उन्होंने वीडियो शेयर करते हुए लिखा- ''मैं रो रहा हूं... वो जरा भी नहीं हिला. बावजूद इसके कि भूकंप आने पर नमाज छोड़ने की इजाजत होती है.'' बता दें कि शेयर करने के दो दिन में ही इस वीडियो को इंस्टाग्राम पर 4 लाख 39 हजार से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं.

बता दें, बाली के देनपासार में भी भूकंप की वजह से इमारतों को क्षति पहुंची है. इन इमारतों में एक डिपार्टमेंटल स्टोर और हवाई अड्डे टर्मिनल की इमारत शामिल है. मौसम विज्ञान, जलवायु विज्ञान और भूभौतिकी एजेंसी के अधिकारी डी कर्नावती ने कहा कि सुनामी की चेतावनी तब वापस ले ली गई जब सुनामी की लहरें तीन गांवों में मात्र 15 सेंटीमीटर ऊंची दर्ज की गई.

ये भी पढ़ें- इस कंपनी में जॉब करने वालों की है बल्ले-बल्ले, हफ्ते में सिर्फ 4 दिन करते हैं काम

First published: 8 August 2018, 13:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी