Home » वायरल न्यूज़ » More than 120 whales die in mass stranding on Chatham Islands
 

न्यूजीलैंड में दिखाई दिया बेहद डरावना नजारा, समुद्र किनारे 120 से अधिक व्हेल नजर आई मरी हुई

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 November 2020, 13:20 IST

न्यूजीलैंड से बुधवार को बेहद ही डरावनी तस्वीरें सामने आई हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, प्रशांत महासागर में दूर-दराज चाथम द्वीप के तट पर 120 से अधिक व्हेल मृत पाई गई हैं. ये सभी व्हेल इस समुद्र तट पर आकर फंस गई और वापस समुद्र में नहीं जा पाई.

न्यूजीलैंड के संरक्षण विभाग (DoC) के कर्मचारियों ने बताया कि 97 पायलट व्हेल और तीन डॉल्फिन की मौत हो गई है, जबकि 28 पाइलट व्हेल और तीन डॉल्फिन काफी कमजोर हो चुकी है और उन्हें इच्छामृत्यु दी गई है.


चैथम द्वीप न्यूज़ीलैंड का हिस्सा है, लेकिन वो करीब 800 किमी दूर स्थित है और इसके कारण इन समुद्री जीवों को बचाने में काफी समय लगा. DoC जैव विविधता रेंजर जेम्मा वेल्च ने कहा कि रिमोट लोकेशन और बिजली की समस्या के कारण सही समय पर लोगों से संपर्क करना मुश्किल हो गया और जब तक रेंजर्स और बचावकर्मी वेटांगी वेस्ट बीच पर घटनास्थल पर पहुंचे तब तक काफी देर हो चुकी थी. उस दौरान दोपहर के तीन बन रहे थे.

इस द्वीप पर 600 लोग ही रहते हैं और इसे व्हेल के मौत के हॉटस्पॉट के रूप में जानी जाती हैं. यहां अक्सर समुद्री मछलियां फंसकर मर जाती हैं. समुद्री मछलियां फंसकर मरने की यहां साल 1918 में यहां पर सबसे बड़ी घटना हुई थी.

वेल्च ने एक बयान में कहा कि समुद्र की खराब परिस्थितियों और ग्रेट व्हाइट शार्क की डर के कारण कुछ व्हलों ने इस तट पर आकर आत्महत्या कर ली है. सैम वाइल्ड चैथम द्वीप पर एक गोताखोर और फोटोग्राफर है और पहली बार इस घटना के बारे में उन्होंने ही सुना जब अधिकारियों ने सभी स्थानीय गोताखोरों को पानी से बाहर निकलने के लिए कहा था. उन्होंने मृत व्हेल की तस्वीरें लीं और इस दृश्य को "बहुत दुखद" और "भावनात्मक" बताया.

बता दें, हर साल न्यूजीलैंड के समुद्र तटों पर औसतन 300 से अधिक डॉल्फ़िन और व्हेल फंसने के कारण मर जाती हैं. स्थानीय लोगों के अनुसार, व्हेल के इस तरह से फंसकर मरने के मामले लगाता बढ़ते ही जा रहे हैं.

आसमान में उड़ते हुए पायलट को रेगिस्तान में दिखाई दी 13 फीट लंबी रहस्यमयी चीज, किसी को नहीं पता क्या है ये? 

First published: 25 November 2020, 23:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी