Home » वायरल न्यूज़ » North Korea execute five officials critise Kim Jong un
 

किम जोंग उन ने दिया पांच अधिकारियों को गोली से उड़ाने का आदेश, आर्थिक नीतियों की थी आलोचना

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 September 2020, 13:36 IST

उत्तर कोरिया (North Korea) में सरकार के कामकाजों की आलोचना करना, अपनी मौत का दावत देना जैसा है और उसका ताजा उदाहरण हाल ही में सामने आया है. खबर है कि किम जोंग उन (Kim Jong un) के आदेश के बाद आर्थिक मंत्रालय के पांच कर्मचारियों को गोली से उड़ा दिया गया. इन लोगों की गलती इतनी था कि इन्होंने एक पार्टी के दौरान देश की अर्थव्यवस्था पर चर्चा करते हुए औद्योगिक बदलावों की जरूरत बताई थी.

डेलीएनके की रिपोर्ट के अनुसार, इन पांच अधिकारियों को 30 जुलाई को गोलियों से उड़ाया गया है. इतना ही नहीं इन पांचों लोगों के परिजनों को कथित तौर पर हिरासत में लिया गया और उन्हें योडिओक के कैंप 15 गुलागा में भेज दिया गया है. इन कैंप के बारे में कहा जाता है कि यहां उत्तर कोरिया के शासन के संदिग्ध दुश्मनों को रखा जाता है, जहां उनके साथ यौन शोषण, दास श्रम सहित कई और रूह कंपा देने वाली सजा दी जाती है.


खबरों की मानें तो इन लोगों ने बातचीत में कहा था कि सराकर की आर्थिक नीतिया काफी खराब हैं और देश दुनिया के सबसे गरीब देशों में से एक हो गया है. इस दौरान इन पांचों अधिकारियों ने जरूरी विदेशी सहयोग को लेकर भी चर्चा की थी. इस मीटिंग की बातचीत की जानकारी किसी तरह से किम के पास पहुंची और इसके बाद इसकी जांच कराई गई.

कहा जा रहा है कि एक दिन जब पांचों अधिकारी ड्यूटी पर थे, तब उत्तर कोरिया की खुफिया पुलिस ने उन्हें अगवा कर लिया और फिर इन्हें किम के सामने लेकर जाया गया, जहां इनसे आलोचना की बाद स्वीकार करवाई गई और फिर गोली से उड़ाने के आदेश दे दिए गए.

बता दें, कोरोना वायरस के असर उत्तर कोरिया ने अपनी सभी सीमाएं सील कर रखी हैं और इस कारण देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है. दूसरी तरफ उत्तर कोरिया तूफान का भी सामना कर रहा है.

लॉकडाउन में युवक की पलटी किस्मत, कूड़े में मिली ऐसी चीज की रातों रात बन गया लखपति

दो भेड़ों की लड़ाई के बीच कुत्ते की हुई एंट्री, देखें वायरल वीडियो

First published: 12 September 2020, 13:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी