Home » वायरल न्यूज़ » The father-in-law returned 11 lakh rupees of dowry to the girl's parents, says give us only daughter
 

लड़की वालों को लड़के के पिता ने वापस लौटाए दहेज के 11 लाख रुपये, कहा- हमें सिर्फ बेटी दे दीजिए

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 February 2021, 14:03 IST

Dowry in India: हमारे देश में दहेज प्रथा समाज को खोखला कर रहा है. बहुत सारी शादियां दहेज की वजह से टूट जाती हैं. हालांकि कुछ लोग समाज में ऐसे भी होते हैं, जो दहेज न लेकर मिसाल कायम करते हैं. ऐसा ही एक मिसाल कायम किया है राजस्थान के रिटायर्ड प्रिंसिपल बृजमोहन मीणा ने. 

राजस्थान के बूंदी जिले के रिटायर्ड प्रधानाचार्य बृजमोहन मीणा ने अपने बेटे की शादी में मिल रहे 11 लाख रुपये दहेज को लड़की के पिता को लौटा दिया. बृजमोहन मीणा ने लड़की के पिता से यह कहकर दहेज लौटा दिया कि उन्हें सिर्फ बेटी चाहिए. आप बस वही दे दीजिए. रिटायर्ड प्रिंसिपल के इस कदम के बारे में जिसने भी सुना, वह उनकी लगातार सराहना कर रहा है.

बता दें कि बृजमोहण मीणा के बेटे की शादी टोंक जिले में हो रही है. शादी से पहले उनके बेटे की सगाई थी. सगाई में लड़की के पिता ने नोटों की गड्डियों से भरी एक थाली दहेज के रूप में उनके सामने रखी. इस थाली में 11 लाख 102 रुपये थे. जैसे ही बृजमोहन मीणा ने इतने पैसे देखे, उन्होंने नोटों की गड्डी में से सगुन के तौर पर 101 रुपये उठा लिए.

इसके बाद उन्होंने लड़की के पिता से कहा कि उन्हें ये पैसे नहीं चाहिए. ऐसा सुनते ही सगाई के माहौल में हंगामे की स्थिति बन गई. लोग सोचने लगे कि क्यों उन्होंने पैसे लेने से इनकार कर दिया? क्या वह सगाई तोड़ना चाहते हैं? लेकिन अगले ही पल उन्होंने सबके सवालों का जवाब देते हुए कहा कि उन्हें सिर्फ बेटी चाहिए, न कि इतने सारे पैसे.

जब दूसरी तरफ दुल्हन ने इस पूरी घटना के बारे में जाना तो उसने कहा कि उसे अपने ससुर के फैसले पर गर्व है. दुल्हन ने कहा कि ये पूरी दुनिया के लिए मिसाल है. बता दें कि दुल्हन साइंस से ग्रेजुएट है और बीएड कर रही है. बृजमोहन मीणा के इस फैसले पर लड़की के पिता का कहना है कि ये उनके लिए प्रेरणा की बात है. इससे समाज में एक संदेश जाएगा.

बिल्ली ने दिखाई ऐसी घुड़की कि कुत्ते की हो गई हालत खराब, वीडियो देखकर हंस-हंस कर लोटपोट हो जाएंगे आप

Video: मस्जिद का माइक बंद करना भूले मौलवी साहब, रातभर आई अजीब आवाजें, सो न पाया मोहल्ला

First published: 25 February 2021, 13:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी