Home » अजब गजब » Cat Island Aoshima of Japan where Population of Human less than cat
 

ये है दुनिया का इकलौता ऐसा आइलैंड जहां इंसानों से ज्यादा रहते हैं जानवर

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 August 2021, 11:24 IST

नियाभर में ऐसी तमाम अनोखी जगहें हैं जिनके बारे में हमने आजतक नहीं सुना और ना ही कभी वहां गए. आपने बड़ी मुश्किल से सुना होगा कि किसी आइलैंड पर इंसानों से ज्यादा बिल्लियां रहती हैं. ऐसा ही एक आइलैंड है ओशिमा आइलैंड. ओशिमा आइलैंड को अब कैट आइलैंड या बिल्लियों का द्वीप कहा जाने लगा है.

जापान के इस आइलैंड पर करीब सौ लोग रहते हैं, लेकिन बिल्लियों की संख्या इस आइलैंड पर इंसानों से दस गुनी है यानि करीब 1000. इस आइलैंड पर एक हजार बिल्लियां रहती हैं. इस आइलैंड पर बिल्लियों की अधिक संख्या की वजह से ही इस आइलैंड का नाम कैट आइलैंड या बिल्लियों का द्वीप पड़ गया है.


साल 1945 के आसपास ये आइलैंड एक 'फिशिंग विजेल' के नाम से मशहूर था. जहां करीब 900 लोग रहा करते थे, लेकिन अब यहां बिल्लियों का राज चलता है. अगर आपको भी बिल्लियों से प्यार है तो आप कैट आइलैंड घूमने जा सकते हैं. इस आइलैंड पर बिल्लियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. ऐसा माना जाता है कि इस आइलैंड पर बिल्लियों और इंसानों का अनुपात 10:1 का है. इसलिए ये जानना बहुत जरूरी हो जाता है कि क्या यहां शुरु से ही बिल्लियों की संख्या इंसानों से ज्यादा थी. बता दें कि कुछ साल पहले तक इस आइलैंड पर ज्यादा बिल्लियां नहीं थीं.

इस आइलैंड पर विश्व युद्ध के बाद कुछ लोग आए थे. यहां के लोगों का मुख्य व्यवसाय मछलियां पकड़ना था. इसके अलावा इस आइलैंड पर कपड़े भी बनाए जाते थे. लेकिन समस्या ये थी कि यहां चूूहों ने आतंक मचा रखा था. वो नए बने कपड़ों को काट दिया करते थे.

लोगों ने इस समस्या से निजात पाने के लिए तमाम काम किए लेकिन समस्या से छुटकारा नहीं मिला. आखिर में उन्होंने चूहों की समस्या से निजात पाने के लिए बिल्लियों को लाना तय किया.उसके बाद लोगों ने चूहों से निजात पाने के लिए बिल्लियां लाना शुरु कर दिया. बिल्लियों के आते ही चूहों का आतंक समाप्त हो गया. लोगों का कपड़ों का व्यापार दोबारा से शुरु हो गया. शुरुआत में तो लोग बहुत खुश थे, क्योंकि बिल्लियों ने चूहों का आतंक समाप्त कर दिया था. लेकिन कुछ समय बाद लोगों को महसूस हुआ कि इस आइलैंड पर और भी कई समस्याएं है. यहां जिंदगी बिताने के लिए बहुत सारी जरूरी सुविधाओं का अभाव था. यहां ना तो बाजार थे और ना ही अस्पताल. इस आइलैंड पर स्थित इकलौता स्कूल भी बंद कर दिया गया था.

तीतर का शिकार करने की कोशिश कर रहा था कुत्ता, वीडियो में देखें जान बचाने के लिए अपनाई ये तरकीत

उसके बाद लोगों ने अपनी जिंदगी को बेहतर बनाने के लिए शहरों का रुख करना शुरु कर दिया. इस आइलैंड से सबसे पहले दो परिवारों ने पलायन किया. उसके बाद धीरे-धीरे इस आइलैंड पर इंसानों की संख्या कम होने लगी. इस आइलैंड से पलायन करने वाले ज्यादातर परिवार अपनी पालतू बिल्लियों को यहां छोड़ गए. इसीलिए आज इस आइलैंड पर इंसानों से ज्यादा बिल्लियां रहती हैं. तभी तो इसे बिल्लियों का द्वीप कहा जाता है.

भैंस के नवजात बच्चे को उठा ले गया शेर, वीडियो में देखें मां ने बचाने के लिए किया

First published: 17 August 2021, 11:24 IST
 
अगली कहानी