Home » अजब गजब » The Boiling River: which is called hottest river in the world, it’s water keeps boiling for 24 hours
 

इस नदी में बहता है खौलता पानी, जिसने भी की इसमें घुसने की गलती हो गई उसकी मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 November 2021, 16:56 IST

हमारी पृथ्वी पर ऐसे लाखों रहस्य हैं जिनके बारे में इंसान आज तक नहीं जान पाया. आज हम आपको एक ऐसे ही रहस्य के बारे में बताने जा रहे हैं. जिसे जानकर यकीनन आप भी हैरान रह जाएंगे. ये रहस्य एक नदी से जुड़ा हुआ है. जिसका पानी हमेशा गर्म रहता है. यही नहीं नदी का पानी इतना गर्म होता है कि अगर इसमें कोई गलती से भी गिर जाए तो उसकी मौत निश्चित है. दरअसल, हम बात कर रहे हैं द बॉयलिंग रिवर (The boiling River) के बारे में. जिसका पानी हमेशा खौलता रहता है. यह रहस्यमयी नदी अपने आप में कई रहस्य छुपाई हुई है. वैज्ञानिक भी इस नदी के रहस्यों को सुलझा नहीं पाए.

बता दें कि इस नदी के अनसुलझे रहस्यों को सुलझाने के लिए वैज्ञानिकों का शोध अभी भी जारी है. ऐसा माना जा रहा है कि जल्द ही वैज्ञानिक 'द बॉयलिंग रिवर' के रहस्य को सुलझा लेंगे कि आखिर इस नदी का पानी खौलता हुआ क्यों है. यह नदी साउथ अमेरिका के पेरू (Peru) में मौजूद है जो 24 घंटे उबलती रहती है. यह नदी करीब 7 किलोमीटर लंबी है. एक पॉइंट तक ये नदी 80 फीट तक चौड़ी हो जाती है तो एक जगह इसकी गहराई 16 फीट तक है. सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है कि इस नदी के आसपास कोई ज्वालामुखी भी नहीं है. बावजूद इसके इस नदी का पानी हमेशा खौलता रहता है. ये प्राकृतिक रूप से गर्म नदी है इसलिए वैज्ञानिक इसे दुनिया की सबसे बड़ी थर्मल नदी मानते हैं.


बता दें कि इस नदी की खोज भूवैज्ञानिक आंद्रे रूजो (Adrés Ruzo) ने साल 2011 में की थी. अमेजन फॉरेस्ट का एक हिस्सा पेरू से लगा हुआ है, इसी पेरू में यह रहस्यमय नदी यानी 'द बॉयलिंग रिवर' स्थित है. पेरू दक्षिण अमेरिका महाद्वीप का एक देश है. अगर अमेजन फॉरेस्ट की बात करें, तो पेरू में इसका 13 फीसदी हिस्सा आता है. इसी में 'द बॉयलिंग रिवर' स्थित है. टेलीग्राफ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अमेजन के जंगलों के बीच इस नदी में सॉल्ट रिवर और हॉट रिवर नाम की दो नदियां मिलती हैं. जो लंबाई में बॉइलिंग रिवर से काफी छोटी हैं. नास डेली नामक यूट्यूब चैनल के अनुसार इस पानी का तापमान 90 डिग्री सेंटीग्रेड से भी ज्यादा पहुंच जाता है.

कई महीनों तक अंधेरे में रहने वाले इस गांव के लिए मसीहा बन गया एक इंजीनियर, सूरज बनाकर दी रोशनी

हैरान करने वाली बात ये भी है कि खौलते पानी के कारण इसमें जो भी जानवर गिरता है उसकी मौत हो जाती है. इंसानों के लिए भी इसमें चलना मुश्किल है क्योंकि गर्म पानी से पैर में छाले पड़ जाते हैं. वैज्ञानिकों के मुताबिक, ये पानी हॉट स्प्रिंग है. धरती की गर्मी से पानी गर्म होकर बाहर निकलता है और हॉट स्प्रिंग बनाता है. नदी के आसपास के इलाकों में कई जनजातियां रहती हैं जो सालों से इस नदी को पवित्र मानती हैं. उनके अनुसार नदी के पानी में चोट और घाव भर देने की शक्ति है. इसलिए पानी से लोगों का उपचार भी होता है. जैसे-जैसे नदी आगे बढ़ती है, वैसे-वैसे ठंडी होती जाती है.

चूहा पकड़ने के लिए ये शख्स अपने घर ले आया अजगर, वीडियो में देखें फिर हुआ क्या

First published: 7 November 2021, 16:56 IST
 
अगली कहानी