Home » कल्चर » Guru Purnima 2021: Your luck will change by taking this, pay tribute to your guru
 

Guru Purnima 2021: गुरु पूर्णिमा पर ये उपाय करने से बदल जाएगी आपकी किस्मत, ऐसे करें अपने गुरु को नमन

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 July 2021, 11:54 IST
guru purnima story (google)

Guru purnima 2021: हर साल आषाढ़ मास की पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा मनाई जाती है. इस दिन हम अपने गुरु की पूजा करते हैं. पूरे देश में यह पर्व बड़ी श्रद्धा से मनाया जाता है. इस दिन न सिर्फ गुरु की, बल्कि परिवार में जो भी बड़ा है उनको गुरू मानकर पूजा करनी चाहिए. जिसमें माता-पिता, दादा-दादी आदि हैं. 

गुरु की कृपा से विद्यार्थी को विद्या आती है और उसका अज्ञान तथा अन्धकार दूर होता है. गुरु का आशीर्वाद शिष्य के लिए कल्याणकारी और मंगल करने वाला होता है. इंसान को संसार की सम्पूर्ण विद्याएं गुरु की कृपा से मिलती हैं. गुरु से मन्त्र प्राप्त करने के लिए गुरू पूर्णिमा का दिन सबसे उत्तम है. इस दिन गुरुजनों सेवा करने का बहुत महत्व है.

इस पर्व को श्रद्धापूर्वक मनाना चाहिए. गुरू पूर्णिमा के दिन प्रातःकाल उठकर स्नान करना चाहिए और गुरूओं की पूजा-अर्चना करना चाहिए. इसके लिए नित्यकर्मों को करके उत्तम और शुद्ध वस्त्र धारण करना चाहिए. गुरू वेद व्यास के चित्र को सुगन्धित फूल और माला चढ़ाकर सबसे पहले अपने गुरु के पास जाना चाहिए.

अपने गुरूओं को ऊंचे सुसज्जित आसन पर बिठाकर पुष्पमाला पहनानी चाहिए. फिर वस्त्र, फूल, फल और माला अर्पण कर कुछ दक्षिणा भेंट कर उनका आशीर्वाद लेना चाहिए. बता दें कि पौराणिक काल से ही गुरू पूर्णिमा का महत्व है. महर्षि वेदव्यास जी का जन्म आषाढ़ पूर्णिमा को हुआ था. वेदव्यास ऋषि पराशर के पुत्र थे.

हिन्दू धर्म शास्त्रों के अनुसार, महर्षि वेद व्यास तीनों कालों के ज्ञाता थे. वह ब्रह्मसूत्र, महाभारत, श्रीमद्भागवत और अट्ठारह पुराण जैसे अद्भुत साहित्यों की रचना करने वाले ज्ञाता थे. अपनी दिव्य दृष्टि से देखकर उन्होंने जान लिया था कि कलियुग में धर्म के प्रति लोगों की रुचि कम हो जाएगी. महर्षि वेद व्यास हमारे आदि-गुरु माने जाते हैं.

Saturday Vastu Tips: शनिदेवा का आशीर्वाद पाने के लिए शनिवार को अपनाएं ये उपाय

इन पांच राशि के लोगों को कभी नहीं रहती पैसों की कोई कमी, जन्म से ही होते हैं बहुत ज्यादा लकी

First published: 23 July 2021, 11:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी