Home » एन्वायरमेंट » Rain in Kerala: No relief from heavy rain for two day in Kerala, IMD issued Orange Alert
 

इस राज्य में अगले कुछ दिनों तक भारी बारिश की आशंका, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 November 2021, 17:55 IST

इस साल देशभर में मानसूनी बारिश ने कई कई रिकॉर्ड तोड़े और उसके बाद बिन मौसम बारिश ने भी लोगों को जमकर परेशान किया. अब केरल के अलग-अलग इलाकों में जमकर बारिश हो रही है. शनिवार रात से शुरु हुई बारिश अब तक थमने का नाम नहीं ले रही है. भारी बारिश के चलते राज्य के कई बांधों में जलस्तर खतरे के निशान तक पहुंच गया. रविवार की सुबह तक राज्य की कई सड़कों पर पानी भर गया. मौसम विभाग के मुताबिक, भारी बारिश की यह स्थिति अगले दो दिनों तक रहेगी. हालांकि ये बारिश राज्य के दक्षिणी हिस्सों में होगी. जिससे राज्य के दूसरे हिस्सों में बारिश से राहत मिलने की उम्मीद है.

इडुक्की जिला प्रशासन ने बताया कि तमिलनाडु सरकार के मुताबिक रविवार सुबह मुल्लापेरियार बांध में जलस्तर 140 फुट तक पहुंच गया. जिसके चलते पेरियार नदी के दोनों किनारों पर रहने वाले लोगों को अधिक सतर्क रहने के लिए कहा गया है, क्योंकि अगले 24 घंटे में जलस्तर बढ़ने पर बांध के द्वार खोले जा सकते हैं. वहीं पथानामथिट्टा में भारी बारिश होने के बाद जिला प्रशासन ने लोगों को अत्यधिक सावधानी बरतने की सलाह दी है, विशेष रूप से नदी के किनारे या भूस्खलन संभावित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को भी सतर्क बरतने की सलाह दी गई है.


बताया जा रहा है कि केरल के कुछ हिस्सों में शनिवार को लगातार हुई बारिश के कारण कुछ स्थानों पर मामूली भूस्खलन हुआ. जिसके चलते ट्रेन सेवाएं बाधित रहीं. अधिकारियों को पहाड़ी इलाकों, नदी के किनारों और पर्यटन केंद्रों में अत्यधिक सावधानी बरतनी पड़ी.

दुनियाभर में सबसे जहरीली हुई दिल्ली की हवा, ये हैं दुनिया के 10 सबसे प्रदूषित शहर

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने शनिवार को तिरुवनंतपुरम में अत्यधिक भारी बारिश होने की आशंका जताई थी और कोल्लम, पथानामथिट्टा, अलाप्पुझा, कोट्टायम और इडुक्की जिलों में बहुत भारी वर्षा की चेतावनी जारी करते हुए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया था. आईएमडी ने अपने एक बयान में कहा है कि 16 नवंबर तक केरल में एक या दो स्थानों पर गरज के साथ बिजली चमकने की भी संभावना है.

Pollution in Delhi: ‘बहुत खराब’ हुई दिल्ली की हवा, प्रदूषण से बचाने के लिए लॉकडाउन की सलाह

First published: 14 November 2021, 17:55 IST
 
अगली कहानी