Home » एन्वायरमेंट » Weather Forecast Today: It may be rain in these states of the country, Know here the air quality of Delhi
 

Weather Update:  देश के इन राज्यों में भारी बारिश के आसार, जानिए कैसा रहेगा दिल्ली का मौसम

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 November 2021, 8:55 IST

Weather forecast today 3rd November:  इस साल देशभर में हुई मानसूनी बारिश ने तमाम रिकॉर्ड तोड़ दिए. जिसके चलते लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा. अब दिवाली के मौके पर एक बार फिर से बारिश लोगों को परेशान कर सकती है. भारत मौसम विभाग के मुताबिक, केरल, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी और तटीय आंध् प्रदेश में भारी बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने इसके लिए अलर्ट भी जारी किया है. इसके अलावा मौसम विभाग ने ओडिशा, मराठवाड़ा, रायलसीमा, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक , मध्य महाराष्ट्र, कोंकण, गोवा और तेलंगाना में भी बारिश की चेतावनी दी है.

वहीं राजधानी दिल्ली में प्रदूषकों के फैलाव के लिए प्रतिकूल परिस्थितियों के कारण मंगलवार को इस मौसम में पहली बार राष्ट्रीय राजधानी में वायु गुणवत्ता ‘बेहद खराब’ की श्रेणी में दर्ज की गई. वायु गुणवत्ता का पूर्वानुमान लगाने वाली एजेंसी ‘सफर’ के संस्थापक परियोजना निदेशक गुफरान बेग ने कहा कि दिल्ली में पीएम 2.5 प्रदूषक में पराली जलाने का योगदान छह फीसदी है. जबकि बाकी प्रदूषण का कारण स्थानीय कारक रहे हैं.


केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के मुताबिक, राजधानी दिल्ली में सोमवार को 24 घंटे का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 289 दर्ज किया गया. जो रविवार को 289 और शनिवार को 268 दर्ज किया गया था. वहीं दिल्ली के पड़ोसी शहरों में भी AQI बेहद खराब की श्रेणी में रहा है. ये फरीदाबाद में 306, गाजियाबाद में 334, नोएडा में 303 दर्ज किया गया. बता दें कि शून्य और 50 के बीच AQI को ‘अच्छा’ 51 और 100 के बीच ‘संतोषजनक’ 101 और 200 के बीच ‘मध्यम’ 201 और 300 के बीच ‘खराब’ 301 और 400 के बीच ‘बहुत खराब’  तथा 401 और 500 के बीच ‘गंभीर’ माना जाता है. बता दें कि दिल्ली में अक्टूबर में मॉनसून की सक्रियता बने रहने और पश्चिमी विक्षोभ के चलते समय-समय पर बारिश होने के कारण पूरे महीने दिल्ली एनसीआर में AQI एक भी दिन ‘बेहद खराब’ या ‘गंभीर’ की श्रेणी में दर्ज नहीं की गई.

मौसम ने बारिश को लेकर की ये भविष्यवाणी

वहीं दूसरी ओर भारतीय मौसम विभाग ने मंगलवार को कहा कि नवंबर में दक्षिण भारत में सामान्य से अधिक बारिश होने का अनुमान है. इस दौरान लंबी अवधि के औसत से 122 प्रतिशत से ज्यादा बारिश हो सकती है. IMD के मुताबिक, ‘दक्षिण भारत यानी तटीय आंध्र प्रदेश, रायलसीमा, तमिलनाडु, पुडुचेरी, केरल और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में नवंबर के लिए बारिश सामान्य से अधिक होने का अनुमान है.’

Bypolls Result 2021: हिमाचल प्रदेश की तीनों सीटों पर कांग्रेस का कब्जा, पश्चिम बंगाल में TMC ने जीतीं चारों सीट

आईएमडी के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्र का कहना है कि दक्षिण भारत, विशेषकर केरल में 11 नवंबर तक बारिश जारी रहेगी. उन्होंने कहा कि देश में इस साल सितंबर और अक्टूबर के दौरान अत्यंत भारी वर्षा की 125 घटनाएं दर्ज की गईं, जो पिछले पांच वर्षों में सबसे अधिक हैं. दक्षिण-पश्चिम मानसून की देर से वापसी और सामान्य से अधिक निम्न दबाव प्रणाली इसके प्रमुख कारण हैं.

कैप्टन अमरिंदर सिंह का कांग्रेस से इस्तीफा, नई पार्टी को दिया ‘पंजाब लोक कांग्रेस’ नाम

First published: 3 November 2021, 8:55 IST
 
अगली कहानी