Home » एन्वायरमेंट » Weather Update: IMD issued heavy rain alert in Tamil Nadu and Andhra Pradesh for next two days
 

Weather Forecast: इन राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी, दिल्ली में कम नहीं हो रही धुंध

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 November 2021, 8:57 IST

इस साल देशभर में अच्छी बारिश देखने को मिली. हालांकि, कई इलाकों में बेमौसम हुई बारिश ने लोगों को बहुत परेशान किया. अब देश के कुछ राज्यों में एक बार फिर से तेज बारिश की चेतावनी जारी की गई है. दरअसल, बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने निम्‍न दबाव का असर कई राज्‍यों में दिखने लगा है. भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, जिस तरह के हालात दिखाई पड़ रहे हैं, उससे अनुमान लगाया जा रहा है कि निम्‍न दबाव बहुत जल्‍द दबाव वाले क्षेत्र में बदल जाएगा जिससे कई राज्यों में भारी बारिश होगी. मौसम विभाग के मुताबिक अगले कुछ दिनों में तमिलनाडु और उसके आसपास के इलाकों में भारी बारिश होने की आशंका है.

बता दें कि तमिल नाडु की राजधानी चेन्‍नई में पिछले कई दिनों से बारिश हो रही है. हालांकि अब बारिश धीरे होने लगी है. इस दौरान तमिलनाडु के नागपट्टिनम और केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी के कराईकल के इलाकों में भारी से बहुत भारी बारिश हुई है. भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, एक ट्रफ रेखा तमिलनाडु तट से दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी तक फैली हुई है. इसका असर अब मौसम पर दिखाई दे रहा है. मौसम पूर्वानुमान के मुताबिक केरल और तमिलनाडु के कुछ हिस्सों, तटीय आंध्र प्रदेश के अलावा अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के अलग-अलग हिस्सों में अगले 24 घंटे के अंदर हल्की से मध्यम बारिश होने का अनुमान है.


राजधानी दिल्ली में छाई धुंध

वहीं राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में अभी भी धुंध छाई हुई है. जिसके अभी और दो दिनों तक रहने की आशंका है. विज्ञान एवं पर्यावरण केंद्र (CSI) के मुताबिक, राजधानी दिल्ली में मौसमी धुंध घनी है, लेकिन अक्टूबर के मध्य से आठ नवंबर तक पराली जलाने से होने वाली धुएं का औसत दैनिक योगदान पिछले चार सालों में सबसे कम रहा है. सीएसई में अनुसंधान की कार्यकारी निदेशक अनुमिता रॉय चौधरी का कहना है कि जाहिर तौर पर मौसम की प्रतिकूल परिस्थितियों के संयुक्त असर, पराली और पटाखे जलाने से मौसम की धुंध छा गई है. जो पिछले चार सालों में सबसे लंबे समय तक धुंध बने रहने का अनुमान है.

Winter 2021: हो जाएं सावधान, जल्दी ही पड़ने लगी कड़ाके की ठंड, कंपा देगी आपकी रूह

सीएसई के मुताबिक, पिछले चार सालों में धुंध की पहली घटना की तुलना करने पर मौजूदा धुंध 2018 और 2020 की पहली धुंध की अवधि से मिलती है, जो छह दिनों तक रही थी. अगर परिस्थितियों में सुधार नहीं होता है तो यह 2019 की धुंध से भी अधिक समय तक रह सकती है, जो आठ दिनों तक रही थी.

Weather Update:  देश के इन राज्यों में भारी बारिश के आसार, जानिए कैसा रहेगा दिल्ली का मौसम

First published: 11 November 2021, 8:57 IST
 
अगली कहानी