Home » इंडिया » Captain Amrinder Singh resigns from Punjab CM post, he says I will oppose Navjot Singh Sidhu as CM
 

पंजाब: सीएम पद से इस्तीफा देने के बाद दिखी कैप्टन अमरिंदर सिंह की नाराजगी, कहा- सिद्धू को न बनाया जाए मुख्यमंत्री

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 September 2021, 21:54 IST

शनिवार का दिन राजनीतिक गलियारों में बहुत खास रहा. जहां एक ओर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के धुर विरोधी और बीजेपी के पूर्व नेता बाबुल सुप्रियो टीएमसी में शामिल हो गए. वहीं दूसरी और पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया. यही नहीं इस्तीफा देने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह की नाराजगी भी देखने को मिली और उन्होंने कह दिया कि कांग्रेस भले ही किसी को मुख्यमंत्री बनाए लेकिन नवजोत सिंह सिद्धू को सीएम का चेहरा बनाया तो वह इसका विरोध करेंगे.

गौरतलब है कि पूर्व क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू बीजेपी छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए थे. उसके बाद कांग्रेस ने उन्हें मंत्री बनाया. साथ ही उन्हें पंजाब कांग्रेस की भी कमान दी गई. लेकिन सिद्धू पर हमेशा ये आरोप लगते रहे कि वह पंजाब के सीएम की कुर्सी पर बैठना चाहते हैं. अब जब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस्तीफा दिया तो उनकी नाराजगी भी सीधे तौर पर सिद्धू के लिए ही नजर आई. कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में यहां तक कह दिया कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और जनरल कमर जावेद बाजवा से उनके संबंध हैं.


कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू को ‘नकारा’ बताते हुए कहा कि, “उसने (सिद्धू) सात महीने तक अपनी फाइलें क्लीयर नहीं की. मैं किसी भी तरीके से सपोर्ट नहीं करूंगा. पाकिस्तान का प्राइम मिनिस्टर इसका दोस्त है. जनरल बाजवा के साथ इसकी दोस्ती है...रोज पाकिस्तान से ड्रोन्स आते हैं, कितने हथियार आए गए, कितने एक्सप्लोसिव आ गए, कितने ग्रेनेड्स आ गए, राइफल, एके47, एके57 सब कुछ आ जाता है...”

बता दें कि शनिवार शाम करीब साढ़े चार बजे अमरिंदर सिंह ने राजभवन जाकर राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से मुलाकात कर अपना इस्तीफा सौंप दिया. इस्तीफा देने के बाद राजभवन के बाहर उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, "मेरा फैसला आज सुबह हो गया था. मैंने कांग्रेस अध्यक्ष से बात की थी और उनसे कह दिया था कि इस्तीफा दे रहा हूं." अमरिंदर सिंह के अनुसार, "यह तीसरी बार हो रहा है. पहले विधायकों को बुलाया, दूसरी बार बुलाया और तीसरी बार बैठक कर रहे हैं. मैं अपमानित महसूस करता हूं. मेरे ऊपर अगर संदेह है तो ऐसे में मैंने फैसला किया कि मुख्यमंत्री पद छोड़ दिया जाए."

First published: 18 September 2021, 21:54 IST
 
अगली कहानी