Home » इंडिया » Corona Vaccination in India: Door to door campaign starts from today for COVID-19 vaccine
 

Corona Vaccination: कोरोना टीकाकरण को मिलेगी रफ्तार, आज से घर-घर जाकर लगाई जाएगी वैक्सीन

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 November 2021, 8:56 IST

कोरोना को मात देने के लिए देशभर में चलाए जा रहे टीकाकरण को आज से रफ्तार मिल रही है. इसके लिए सरकार सोमवार से घर-घर जाकर लोगों को कोविड-19 का टीकाकरण करवाने की पहल कर रही है. भारत में दुनिया के किसी अन्य देश के मुकाबले सबसे तेज टीकाकरण हुआ है, लेकिन सरकार का लक्ष्य है कि देश का कोई नागरिक कोरोना का टीका लेने से छूट न जाए. इसीलिए आज यानी 1 नवंबर से देशभर में स्वास्थ्य कर्मचारी घर-घर जाकर लोगों को कोरोना का टीका लगाएंगे. बता दें कि देश में अब तक कोरोना वैक्‍सीन (Corona Vaccine) की 106 करोड़ से अधिक डोज दी जा चुकी हैं.

अब इस अभियान को रफ्तार देने के मकसद से केंद्र सरकार राज्‍यों के साथ मिलकर हर घर दस्‍तक अभियान चलाने जा रही है. इसकी शुरुआत आज यानी सोमवार 1 नवंबर से हो रही है. इसके तहत हेल्थ वर्कर घर-घर जाकर लोगों को वैक्‍सीन लगाएंगे. इस अभियान का मकसद उन लोगों को कोरोना वैक्‍सीन लगाने का है जिन्होंने अब तक कोरोना वैक्‍सीन की एक भी डोज नहीं ली है. या उन्होंने दूसरी डोज नहीं ली है.


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने पिछले दिनों कहा था कि खराब प्रदर्शन वाले जिलों में घर-घर जाकर कोविड-19 टीकाकरण के लिए ‘हर घर दस्तक’ अभियान शुरू किया जाएगा. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा था कि इसका उद्देश्य लोगों को घातक वायरस से बचाव के लिए पूर्ण टीकाकरण के लिए प्रेरित करना है. विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ एक राष्ट्रीय समीक्षा बैठक के दौरान मांडविया ने ये भी कहा था कि कोई भी जिला ऐसा नहीं रहना चाहिए जहां पूर्ण टीकाकरण नहीं हो.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मांडविया ने कहा था कि हर घर दस्तक अभियान जल्द ही खराब प्रदर्शन करने वाले जिलों में लोगों को पूर्ण टीकाकरण के लिए उत्साहित करने और प्रेरित करने के लिए शुरू होगा. आइए, हम सभी पात्र लोगों को नवंबर 2021 के अंत तक कोविड-रोधी टीके की पहली खुराक देने का लक्ष्य रखें. बता दें कि देशभर में ऐसे लगभग 48 जिलों की पहचान की गई है, जहां पात्र लाभार्थियों में से 50 फीसदी से भी कम लोगों ने कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली है.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी विदेश यात्रा से लौटने के बाद 3 नवंबर को 11 राज्‍यों के मुख्‍यमंत्रियों के साथ टीकाकरण अभियान को आगे बढ़ाने को लेकर चर्चा करने वाले हैं. इस दौरान टीकाकरण को लेकर रणनीति पर बात की जाएगी. ऐसा माना जा रहा है कि पीएम मोदी 40 ऐसे जिलों के डीएम के साथ भी बैठक करेंगे, जहां कोरोना टीकाकरण सबसे कम हुआ है. इनमें मणिपुर, झारखंड, नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश और महाराष्‍ट्र के कई जिले शामिल हैं. पीएम मोदी ने शनिवार को रोम में आयोजित G-20 शिखर सम्मेलन में कहा था कि भारत अगले साल के अंत तक कोविड-19 टीके की पांच अरब खुराक का उत्पादन करने के लिए तैयार है.

Post Office की ये स्कीम बना देगी आपको लखपति, बस हर महीना जमा करने पड़ेंगे 1500 रुपये

First published: 1 November 2021, 8:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी