Home » इंडिया » Coronavirus: Arrival of third wave of Covid in the country will depend on these four things
 

Coronavirus: देश में कोरोना की तीसरी लहर कब और कैसे आएगी ! इन चार बातों पर करेगा निर्भर

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 July 2021, 9:04 IST
Coronavirus story (catch news)

Coronavirus: देश में कोरोना वायरस की तीसरी लहर के लिए विशेषज्ञों ने अपनी राय रखी है. विशेषज्ञों का कहना है कि देश में कोविड की तीसरी लहर का आना चार बातों पर निर्भर करेगी. विशेषज्ञों का कहना है कि एसएआरएस सीओवीटू जब तक हमारे आसपास रहेगा तथा लोग कोरोना से संक्रमित होते रहेंगे. तब तक कोरोना की नई लहरों के आने की आशंका बनी रहेगी.

विशेषज्ञों ने बताया कि कोरोना की तीसरी लहर कब आएगी तथा इसकी तीव्रता कितनी होगी. उन्होंने कहा कि यह मुख्य रूप से चार बातों पर निर्भर करेगा. सबसे पहला यह कि हमारी आबादी का कितना हिस्सा कोविड संक्रमित होने के बाद एंटीबॉडी बना चुका है. 

जो दूसरी और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन कितनी गंभीरता से लोग कर रहे हैं. तीसरा कोविड वायरस के नये वेरिएंट्स की स्थिति क्या है. यह अधिक संक्रामक तथा गंभीर तो नहीं हैं. चौथा यह कि देश की कुल आबादी के कितने प्रतिशत हिस्से को कोविड वैक्सीन दी जा चुकी है.

बता दें कि दुनिया के कई देशों में एक बार फिर से कोरोना वायरस के मरीज तेजी से बढ़ रहे हैं. इसमें कई ऐसे लोग भी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं, जिन्होंने कोरोना की वैक्सीन लगवा ली है. इसमें कई लोग तो ऐसे भी हैं, जिन्होंने कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवा ली है. इसी की वजह से कोरोना की तीसरी लहर की संभावना बनी हुई है.

भारत में स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों तथा सरकार का भी मानना है आने वाले तीन महीने कोरोना की तीसरी लहर के हिसाब से काफी नाजुक हैं. दुनिया के बाहरी देशों में जब कोविड वैक्सीन लेने के बाद भी लोग संक्रमित हो रहे हैं तो इसे लेकर भय की स्थिति बन रही है. इस दौरान सवाल भी उठ रहे हैं कि क्या कोरोना वैक्सीन संक्रमण से बचाने में कारगर नहीं है? 

इस देश ने चौथी लहर से पहले जारी किया स्पेशल कोविड-19 पास, कई लोग कर रहे विरोध

Coronavirus: 13 राज्यों में बढ़ा कोरोना संक्रमण का खतरा, तीसरी लहर की आहट

First published: 23 July 2021, 9:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी