Home » इंडिया » Only sister died 5 years ago, now on Rakshabandhan women make auto travel free
 

5 साल पहले हो गई थी इकलौती बहन की मौत, अब रक्षाबंधन पर महिलाओं को मुफ्त कराते हैं ऑटो का सफर

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 August 2021, 15:02 IST
Dhanraj Dadhich (google)

Raksha Bandhan 2021: रविवार यानि 22 अगस्त को रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाना है. इस मौके पर हम आपके एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं. जो रक्षाबंधन पर सभी महिलाओं को टैक्सी से मुफ्त यात्रा करवाते हैं. जोधपुर के रहने वाले ये शख्स इस तरह अपनी बहन को हर रक्षाबंधन पर अनोखी श्रद्धांजलि देते हैं.

दरअसल जोधपुर के मदेरणा कॉलोनी में रहने वाले धनराज दाधीच की बहन का 5 साल पहले निधन हो गया था. इसके बाद अपनी बहन की याद में वह हर रक्षाबंधन पर सुबह से लेकर शाम तक सैकड़ों बहनों को उनके भाइयों तक पहुंचाने के लिए निशुल्क यात्रा करवाते हैं. धनराज दाधीच रक्षाबंधन पर सुबह 10:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक महिलाओं को फ्री यात्रा करवाते हैं.

धनराज दाधीच अपना जीवनयापन करने के लिए ऑटो चलाते हैं. वह रक्षाबंधन से 1 सप्ताह पहले फेसबुक, व्हाट्सएप इत्यादि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए रक्षाबंधन पर नि:शुल्क यात्रा का मैसेज देते हैं. उन्होंने अपने ऑटो पर नि:शुल्क यात्रा का पोस्टर भी चिपका रखा है. पोस्टर में उन्होंने अपना मोबाइल नंबर भी दे रखा है.

बता दें कि धनराज दाधीच की इकलौती बहन बेबी का 5 साल पहले निधन हो गया था. तब रक्षाबंधन के दिन उन्हें अपनी सूनी कलाई देखकर बहुत रोना आया. धनराज ने उस दिन अपनी बहन को बहुत मिस किया. इसके बाद उन्होंने हर रक्षाबंधन पर अपनी ऑटो में सभी बहनों को निशुल्क यात्रा करवाने का प्रण लिया.

उसके बाद से लेकर आज 5 सालों बाद भी धनराज रक्षाबंधन के दिन हर बहन को उसके भाई की कलाई में राखी बांधने के लिए निशुल्क यात्रा करवाते हैं. धनराज का कहना है कि उनकी बहन तो इस दुनिया में नहीं है. लेकिन रक्षाबंधन पर हर महिला उनकी बहन हैं. उन्होंने बताया कि महिलाओं को फ्री यात्रा करवाकर उन्हें दिली खुशी मिलती है.

रक्षाबंधन पर गलती से भी इस समय न बांधें राखी, रावण की बहन ने बांधी थी हो गया था विनाश

पैसों की तंगी का सबसे बड़ा कारण हैं ये चीजें, अगर आपके घर में भी है तो आज ही करें बाहर

First published: 21 August 2021, 14:59 IST
 
अगली कहानी