Home » इंडिया » Petrol Diesel Price: Government of India announces excise duty reduction on petrol and diesel
 

Petrol Diesel Price: केंद्र सरकार का दिवाली पर आम आदमी को तोहफा, पेट्रोल-डीजल के दाम में की भारी कटौती

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 November 2021, 21:55 IST

Petrol Diesel Price Reduced: केंद्र सरकार ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में भारी कटौती कर आम आदमी को दिवाली का तोहफा दिया है. पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों ने आम आदमी की कमर तोड़कर रख दी थी, लेकिन अब केंद्र सरकार ने आम आदमी को राहत देने का मन बना लिया है. केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर लगने वाली एक्साइज ड्यूटी में भारी कटौती करने का ऐलान किया है. जिसका असर तेल की कीमतों पर पड़ेगा और पेट्रोल-डीजल दोनों ही सस्ते हो जाएंगे. तेल की नई कीमतें दिवाली यानी कल (गुरुवार) 5 नवंबर की सुबह से लागू हो जाएंगी.

केंद्र सरकार ने पेट्रोल पर लगने वाली एक्साइज ड्यूटी में 5 रुपये और डीजल की एक्साइड ड्यूटी में 10 रुपये प्रति लीटर की कटौती का ऐलान किया है. बता दें कि आगामी रबी सीजन को देखते हुए किसानों के लिए राहत की खबर है. इस राहत के साथ ही पेट्रोल और डीजल पर वैट कम करने की भी उम्मीद बढ़ गई है.  दें कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी से आम आदमी परेशान था. मंगलवार 4 नवंबर तक भी लगातार सात दिनों तक तेल की कीमतों में इजाफा किया गया. हालांकि बुधवार को तेल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया. 


बुधवार शाम को ही केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की एक्साइज ड्यूटी में कटौती करने का ऐलान कर दिया. गौरतलब है कि देश के अधिकतर शहरों में पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के पार चला गया है और लगभग हर रोज करीब 35 पैसे महंगा हो रहा है. 4 अक्टूबर 2021 से 25 अक्टूबर तक पेट्रोल की औसत कीमत में यहां 8 रुपये से अधिक की बढ़ोतरी हो चुकी है. कुछ शहरों में डीजल की कीमत भी 100 रुपये प्रति लीटर पहुंच चुकी हैं. वहीं देख के कई शहरों में पेट्रोल 110 रुपये प्रति लीटर से ऊपर बिक रहा है. वहीं डीजल भी कुछ शहरों में 110 रुपये या उससे भी ऊपर पहुंच चुका है. राजस्थान के गंगानगर में तो पेट्रोल की कीमत 122 रुपये से ऊपर निकल गई हैं.

इन राज्यों में बिगड़े डेंगू से हालात, मदद के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने भेजी टीमें

बता दें कि केंद्र सरकार पेट्रोल और डीजल पर सबसे अधिक उत्पाद शुल्क लगाती है. पिछले साल पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क को 19.98 रुपये से बढ़ाकर 32.9 रुपये प्रति लीटर कर दिया गया था. इसी तरह डीजल पर शुल्क बढ़ाकर 31.80 रुपये प्रति लीटर किया गया था. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतें सुधार के साथ 85 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गई है और मांग घटी है, लेकिन सरकार ने उत्पाद शुल्क नहीं घटाया. जिसके चलते देश के सभी बड़े शहरों में पेट्रोल 100 रुपये प्रति लीटर के ऊपर निकल गया.

इन राज्यों में बिगड़े डेंगू से हालात, मदद के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने भेजी टीमें

First published: 3 November 2021, 21:55 IST
 
अगली कहानी