Home » इंडिया » Tokyo Olympics: Indian men's Hockey team brings Bronze medal home after they beat Germany
 

Tokyo Olympics: भारतीय हॉकी टीम ने 41 साल बाद ओलंपिक में जीता पदक, जर्मनी को हराकर जीता कांस्य

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 August 2021, 9:12 IST
hockey bronze (catch news)

Indian Hockey Team wins Bronze: टोक्यो ओलंपिक से आज भारत के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी सामने आई. भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने जर्मनी को 5-4 से हराकर ब्रॉन्ज मेडल जीत लिया है. भारतीय टीम ने 3-1 से पिछड़ने के बाद बहुत ही रोमांचक मैच में जीत हासिल की है. इसके साथ भारतीय टीम ने इतिहास रच दिया और 41 साल बाद ओलंपिक में मेडल जीता है.

इससे पहले साल 1980 के ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम ने गोल्ड मेडल जीता था. अब 41 साल का सूखा खत्म करते हुए भारतीय टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 में कांस्य पदक जीता है. मुकाबला शुरू होने के बाद पहला गोल जर्मनी ने किया था. हालांकि भारतीय टीम के लिए बराबरी का गोल सिमरनजीत सिंह ने किया. लेकिन जमर्नी ने चंद मिनटों के भीतर ही दो गोल दागकर भारत पर 3-1 की बढ़त बना ली थी.

बहरहाल भारत ने जल्द ही दूसरा गोल कर बढ़त के अंतर को 2-3 कर दिया. भारत ने इसके बाद पेनल्टी कॉर्नर पर गोल दागकर मुकाबला 3-3 से बराबर कर दिया. यह क्वार्टर खत्म होने तक बरकरार रहा. दूसरे क्वार्टर के बाद तीसरे क्वार्टर में भारतीय टीम ने दो गोल कर 5-3 की बढ़त बना ली थी. वहीं चौथे क्वार्टर की शुरुआत में ही जर्मनी ने पेनल्टी कॉर्नर पर गोल कर भारत की बढ़त का अंतर कम करते हुए 5-4 कर दिया था.

हालांकि अंत तक यही स्कोर रहा और भारतीय टीम ने ब्रॉन्ज मेडल जीता. एक समय भारतीय टीम 3-2 से पिछड़ रही थी, लेकिन जबर्दस्त वापसी करते हुए खुद को आगे किया और इतिहास रच दिया. बता दें कि जर्मनी की टीम साल 2008 और 2012 की गोल्ड मेडलिस्ट रह चुकी थी. जबकि साल 2016 के ओलंपिक में जर्मनी ने ब्रॉन्ज मेडल जीता था.

Tokyo Olympics 2020: भारत के लिए बड़ी खुशखबरी, रेसलर विनेश फोगाट ने स्वीडन की पहलवान को हराया

भारत के लिए टोक्यो ओलंपिक में पहला गोल्ड मेडल जीत सकते हैं रेसलर रवि कुमार, आज है फाइनल मुकाबला

First published: 5 August 2021, 8:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी