Home » इंडिया » Union Minister Narayan Rane gets bail after 8 hours of detain over statement on Maharashtra CM Uddhav Thackeray
 

केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को गिरफ्तारी के आठ घंटे बाद मिली जमानत, ये था पूरा मामला

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 August 2021, 7:54 IST

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ्तार किए गए केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को मंगलवार रात करीब आठ घंटे बाद रायगढ़ जिले में महाड की एक अदालत ने जमानत दे दी. अब उन्हें 30 अगस्त और 6 सितंबर को कोर्ट में पेश होने को कहा गया है. हालांकि कोर्ट ने पहले राणे को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया था लेकिन बाद में उन्हें जमानत दे दी गई. इससे पहले राणे के वकील अनिकेत निकम ने आरोप लगाया कि पुलिस उन्हें गिरफ्तार करने से पहले कानून की उचित प्रक्रिया का पालन करने में विफल रही. इसलिए वह उनकी गिरफ्तारी का विरोध करेंगे.

बता दें कि रत्नागिरी कोर्ट से अग्रिम जमानत खारिज होने और बॉम्बे हाईकोर्ट से भी कोई राहत न मिलने के बाद पुलिस ने राणे को मंगलवार को हिरासत ले लिया था और फिर कुछ देर बाद उन्हें गिरफ्तार भी कर लिया गया. इसके बाद नारायण राणे को महाड मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश किया गया. उसके बाद करीब साढ़े 11 बजे उन्हें जमानत दे दी गई. केंद्रीय मंत्री राणे को 15,000 रुपये का जमानती मुचलका भरने और 30 अगस्त तथा 6 सितंबर को रायगढ़ में पेश होने का आदेश दिया गया है. अदालत ने नारायण राणे को ऐसा कोई अपराध नहीं करने का निर्देश देते हुए पुलिस को उनकी आवाज के नमूने एकत्र करने से पहले सात दिन का नोटिस देने को भी कहा है.


बता दें कि केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री नारायण राणे की टिप्पणी को लेकर महाराष्ट्र में उनके खिलाफ चार एफआईआर दर्ज की गई थीं. महाड में उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 189 (लोकसेवक को नुकसान पहुंचाने की धमकी देने) और धारा 504 (शांति भंग करने के लिए जानबूझकर अपमान करना) तथा धारा 505 (सार्वजनिक तौर पर शरारत से संबंधित बयान) के तहत मामला दर्ज किया गया था.

ये था पूरा मामला

बता दें कि केंद्रीय मंत्री राणे ने दावा किया था कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे यह भूल गए कि देश की आजादी को कितने साल हुए हैं. राणे ने रायगढ़ जिले में सोमवार को ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ के दौरान कहा, "यह शर्मनाक है कि मुख्यमंत्री को यह नहीं पता कि आजादी को कितने साल हो गए हैं. भाषण के दौरान वह पीछे मुड़कर इस बारे में पूछते नजर आए थे. अगर मैं वहां होता तो उन्हें एक जोरदार थप्पड़ मारता."

जम्मू-कश्मीर: सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, सोपोर एनकाउंटर में तीन आतंकियों को मार गिराया

First published: 25 August 2021, 7:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी