Home » इंडिया » Was Patiala House incident preplanned?
 

क्या पटियाला हाउस कोर्ट में हुआ हमला सुनियोजित था?

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 February 2016, 18:59 IST

सोमवार सुबह पटियाला हाउस कोर्ट में जेएनयू छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार की पेशी से पहले छात्रों-शिक्षकों और पत्रकारों को पीटने की घटना सुनियोजित बताई जा रही है. पटियाला हाउस कोर्ट की बार एसोसिएशन के कुछ सदस्यों के बीच प्रसारित हुआ एक व्हाट्स एप मैसेज सामने आया है जिसमें जेएनयू के छात्रोंं को सबक सिखाने की बात कही गई है. रविवार को दिन में ही इसकी योजना बन गई थी. वकीलों को भेजे गए संदेश में देशद्रोहियों को सबक सिखाने की बात कही गई है.

इंडियन एक्सप्रेस की वेबसाइट ने इसका खुलासा करते हुए वो व्हाट्सऐप संदेश भी जारी किया है. इसमें बताया गया है कि रविवार को पटियाला हाउस कोर्ट बार एसोसिएशन के सदस्यों को एक व्हाट्स ऐप मैसेज भेजा गया था. इस संदेश में कहा गया है कि सभी सदस्य सोमवार को अदालत में मौजूद रहे और इन देशद्रोहियों को शांतिपूर्ण ढंग से, कानून केे मुताबिक सबक सिखाएं. और देशद्रोहियों को नेस्तनाबूद कर दें.

Whatsapp message for JNU Patiala court advocte.jpg

इंडियन एक्सप्रेस द्वारा प्रकाशित व्हाट्स ऐप संदेश

इसके बाद सोमवार को जो हुआ वो सबके सामने है. जेएनयू के विरोध में नारेबाजी करते हुए एसोसिएशन के वकीलों ने कोर्टरूम के अंदर शिक्षकों की मौजूदगी का विरोध किया और उन्हें बाहर करने की मांग रखी. इसके बाद पुलिसकर्मियों के अंदर आकर इन्हें बाहर निकालने के लिए कहे जाने से पहले ही वकीलों ने इन शिक्षकों को जबर्दस्ती बाहर निकालने की कोशिश की. इतना ही नहीं वकीलों ने मीडियाकर्मियों से भी मामले को कवर करने से रोकते हुए बाहर जाने को कहा. 

इसके बाद कोर्टरूम के बाहर अदालत परिसर में छात्रों-शिक्षकों और पत्रकारों को पीटा गया. जबकि इस दौरान पुलिसकर्मी वहां मूकदर्शक बने खड़े रहे.

First published: 15 February 2016, 19:02 IST
 
अगली कहानी