Home » साइंस-टेक » NASA scientists showed a huge hole on surface of the Sun, It could cause absolute chaos on Earth
 

नासा के वैज्ञानिकों को दिखा सूर्य की सतह पर छेद, कहा- पृथ्वी पर मंडरा रहा है खतरा

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 November 2021, 9:59 IST
(प्रतीकात्मक फोटो)

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा (NASA)के वैज्ञानिकों को सूर्य की सतह पर एक बड़ा सा छेद दिखाई दिया है. जो पृथ्वी पर खतरा मंडराने का संकेत दे रहे हैं. नासा के वैज्ञानिकों का कहना है कि इस छेद से आवेशित कणों की लगातार बौछार हो रही है. जो पृथ्वी के लिए खतरा पैदा कर सकती है. वैज्ञानिकों का कहना है कि इन कणों इस हफ्ते के अंत में पृथ्वी के वायुमंडल से टकराने की संभावना है. स्पेसवेदर की रिपोर्ट के मुताबिक, इसके परिणामस्वरूप पृथ्वी के मैग्नेटोस्फीयर में कुछ मामूली भू-चुंबकीय हलचल पैदा हो सकती है. इसके पृथ्वी की ओर बढ़ने वाली धारा से ध्रुवीय क्षेत्रों में कुछ सुंदर अरोरा प्रभाव उत्पन्न होने की उम्मीद है. जिसके चलते उत्तरी और दक्षिणी ध्रुवों के आसमान में हरे रंग की रोशनी देखने को मिल सकती है.

नासा के वैज्ञानिकों ने हैरान करने वाली जानकारी देते हुए बताया कि सोलर डायनेमिक ऑब्जर्वेटरी ने सूर्य के बाहरी वातावरण में बड़े 'कोरोनल होल' का पता लगाया है. नेशनल ओशनिक एंड एटमॉस्फेरिक एडमिनिस्ट्रेशन के स्पेस वेदर प्रेडिक्शन सेंटर के एक प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर बिल मुर्तघ ने बताया कि पिछले कई सालों से हमने सूरज में काफी कम हलचल को महसूस किया है. ऐसा अधिकतर सोलर मिनिमम के दौरान ही होता है, लेकिन अब हम सोलर मैक्सिमम की ओर तेजी से बढ़ रहे हैं. ये साल 2025 में सबसे अधिक तेज होगा.


वैज्ञानिकों का कहना है कि सौर तूफान के कारण धरती का बाहरी वायुमंडल गर्म हो सकता है जिसका सीधा असर सैटेलाइट्स पर पड़ सकता है. इससे जीपीएस नैविगेशन, मोबाइल फोन सिग्नल और सैटेलाइट टीवी में रुकावट पैदा होने की आशंका है. यही नहीं पावर लाइन्स में करंट तेज हो सकता है जिसके चलते ट्रांसफॉर्मर उड़ सकते हैं. हालांकि, वैज्ञानिकों का कहना है कि आमतौर पर ऐसा कम ही होता है क्योंकि, धरती का चुंबकीय क्षेत्र इसके खिलाफ सुरक्षा कवच का काम करता है.

सावधान: Gmail पर एक से ज्यादा अकाउंट बनाना हो सकता है खतरनाक, ऐसे करें डिलीट

बता दें कि आमतौर पर सूर्य के आस पास मैग्नेटिक एक्टिविटी होती रहती है जिसकी वजह से सौर तूफान आते हैं. उन सौर तूफानों की वजह से छेद तो होते हैं लेकिन वह खुद खत्म हो जाते हैं, लेकिन, सूर्य पर बना यह छेद, जो लगातार बढ़ता जा रहा है यह वैज्ञानिकों के लिए दिक्कतें पैदा कर रहा है और पृथ्वी पर कई तरह के खतरे पैदा कर सकता है.

Lava Agni 5G में मिल रही 8GB रैम, दमदार प्रोसेसर और 64MP कैमरे के साथ ये फीचर, मिलेगा 2,000 रुपये का डिस्काउंट

First published: 22 November 2021, 9:59 IST
 
अगली कहानी