Home » खेल » Gujarat CM Vijay Rupani congratulates Bhavina Patel for winning Silver medal at Paralympic Games
 

पैरालंपिक में देश को मेडल दिलाने वाली भाविना पटेल पर इनामों की बारिश, 3 करोड़ रुपये देगी गुजरात सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 August 2021, 15:07 IST
Bhavina Patel (ani)

Tokyo Paralympics 2020: टोक्यो पैरालंपिक में भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविना पटेल(Bhavina Patel) ने देश को सिल्वर मेडल जिताकर गौरवान्वित किया है. इसके बाद उन पर इनामों की बारिश हो गई है. गुजरात सरकार ने भाविना पटेल को 3 करोड़ रुपये इनाम देने का ऐलान किया है. गुजरात सरकार की ‘दिव्यांग खेल प्रतिभा प्रोत्साहन पुरस्कार योजना’ के तहत भाविना को 3 करोड़ रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा.

गुजरात के मेहसाणा जिले के सुंधिया गांव की रहने वाली भाविना ने अपने पहले पैरालंपिक खेलों में देश को सिल्‍वर मेडल जिताकर गौरवान्वित किया है. इसी के साथ ओलंपिक या पैरालंपिक खेलों में वह मेडल जीतने वाली देश की पहली टेबल टेनिस खिलाड़ी बन गई हैं. उन्हें फाइनल मुकाबले में विश्व की नंबर एक खिलाड़ी चीन की यिंग झोउ से 0-3 से हार का सामना करना पड़ा. इस हार के बाद भी उन्होंने सिल्वर मेडल जीता.

पैरालंपिक खेलों के इतिहास में देश के लिए मेडल जीतने वाली भाविना पटेल दूसरी महिला खिलाड़ी हैं. दीपा मलिक ने उनसे पहले साल 2016 के रियो पैरालंपिक में गोला फेंक में 4.61 मीटर के सर्वश्रेष्ठ थ्रो के साथ सिल्वर मेडल जीता था. भाविना पटेल ने सेमीफाइनल में दुनिया की तीसरे नंबर की चीनी खिलाड़ी को हराकर फाइनल में प्रवेश किया था. उन्होंने सेमीफाइनल मुकाबला 7-11, 11-7, 11-4, 9-11, 11-8 से जीता था.

हालांकि वीमंस सिंगल क्‍लास 4 के फाइनल मुकाबले में भाविना को चीनी खिलाड़ी झाउ यिंग के हाथों 11-7, 11- 5, 11-6 से हार का सामना करना पड़ा. बता दें कि पैरा टेबल टेनिस में कुल 11 कैटेगरी होती है. इसमें 1 से 5 तक के एथलीट व्हीलचेयर पर खेलते हैं. जबकि 6 से 10 तक की कटेगरी के एथलीट खड़े होकर खेल सकते हैं. वहीं क्लास-11 के एथलीटों को मानसिक समस्या होती है. भाविना पटेल ने व्हीचेयर के सहारे ही पोडियम तक का सफर तय किया है. 

टोक्यो ओलंपिक में भारत ने रचा था इतिहास

बता दें कि भारत ने टोक्‍यो ओलंपिक 2020 में एक गोल्‍ड, दो सिल्‍वर और 4 ब्रॉन्‍ज समेत कुल 7 मेडल जीतकर इतिहास रचा था. ओलंपिक के इतिहास में भारत का यह अब तक का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन था. इससे पहले साल 2012 के लंदन ओलंपिक में भारत ने कुल 6 मेडल जीते थे. भारत की तरफ से इस ओलंपिक में नीरज चोपड़ा ने भाला फेंक में देश को 13 साल बाद गोल्ड मेडल दिलाने में कामयाबी हासिल की है. 

अब ओलंपिक विजेताओं से आते-जाते मिल सकेंगे दिल्ली के लोग, पीतमपुरा मेट्रो स्टेशन पर बनाए गए भित्तिचित्र

First published: 29 August 2021, 14:59 IST
 
अगली कहानी