Home » वायरल न्यूज़ » World's most toughest creature Tardigrades which can survive in every situation
 

ये है दुनिया का सबसे कठोर जीव, खौलते पानी में भी नहीं होती इसकी मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 August 2021, 12:58 IST
Tardigrades (Social Media )

पूरी दुनिया में लाखों करोड़ों तरह के जीव जन्तु पाए जाए हैं जिनमें से कुछ ही ऐसे जीव होते हैं जो हर हालात में जिंदा रह सकते हैं. अमूमन हर जीव हर तरह के मौसम में जिंदा नहीं रह सकता. आज हम आपको एक ऐसे ही जीव के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे दुनिया का सबसे कठोर जीव माना जाता है. ये जीव हर हाल में जिंदा रह सकता है फिर चाहे उसे खौलते पानी में ही क्यों न डाल दो. इस जीव का नाम है टार्डिग्रेड्स. बता दें कि टार्डिग्रेड्स नाम का ये जीव खौलते पानी में ही नहीं बल्कि भारी वजन से कुचलने के बाद भी जिंदा रह सकता है.

यही नहीं इसे अंतरिक्ष से फेंकने के बाद भी मारा नहीं जा सकता है. बता दें कि साल 2007 में वैज्ञानिकों ने हजारों टार्डिग्रेड्स को सैटेलाइट में डालकर स्पेस में भेज दिया. जब ये स्पेसक्राफ्ट धरती पर लौटा, तो देखा गया कि टार्डिग्रेड्स जीवित थे. यहां तक कि मादा टार्डिग्रेड ने अंडे भी दे रखे थे. बता दें कि सूखे की समस्या होने पर टार्डिग्रेड के कुछ ऐसे जीन सक्रिय हो जाते हैं, जो उनकी कोशिकाओं में पानी की जगह ले लेते हैं. फिर वे इसी तरह रहते हैं और कुछ महीनों या सालों बाद, जब दोबारा पानी उपलब्ध होता है, तो अपनी कोशिकाओं को वो दोबारा पानी से भर लेते हैं.


इसके अलावा वैज्ञानिकों का कहना है कि इस जीव के अंदर 'पैरामैक्रोबियोटस' नामक जीन पाया जाता है. पैरामैक्रोबियोटस एक सुरक्षात्मक फ्लोरोसेंट ढाल है, जो अल्ट्रा वॉयलेट रेडिएशन को रोक लेती है. यह जीन हानिकारक पराबैंगनी विकिरण को अवशोषित कर उसे हानिरहित नीली रोशनी के रूप में वापस बाहर निकालता है. वहीं सामान्य जीव इन हानिकारक किरणों के बीच महज 15 मिनट तक ही जिंदा रह सकते हैं.

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस के एक बायोकेमिस्ट में अपने रिसर्च पेपर में लिखा, 'पैरामैक्रोबियोटस' के नमूने यूवी प्रकाश के तहत प्राकृतिक प्रतिदीप्ति प्रदर्शित करते हैं, जो यूवी विकिरण की घातक खुराक के खिलाफ रक्षा करता है. शोधकर्ताओं की माने तो इस जीव के 'पैरामैक्रोबियोटस' को निकालकर अन्य जीवों में भी ट्रांसफर किया जा सकता है.

हिरण के बच्चे को निगलने की कोशिश कर रहा था अजगर तभी बचाने पहुंच गई मां और फिर...

ऐसा करने से अन्य जीव भी खतरनाक हालातों और रेडिएशन के बीच जीवित रह सकते हैं. इन सभी हालात में जिंदा रहने के कारण ही इस जीव को दुनिया का सबसे कठोर जीव कहा जाता है.

नदी पार कर रहा था अफ्रीकन बारहसिंघा तभी कर दिया मगरमच्छ ने हमला, वीडियो में देखें फिर हुआ क्या

First published: 2 August 2021, 12:58 IST
 
अगली कहानी